खबर का असर : सिंगरौली में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं को लेकर कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश

कलेक्टर ने सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए जांच के आदेश दिए हैं वहीं इसके लिए एक टीम भी गठित की गई है।

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। मध्यप्रदेश (MP) में सड़क दुर्घटनाओं (Road Accidents) का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। वहीं सिंगरौली जिला (Singrauli District) भी इससे अछूता नहीं है, यहां भी आए दिन लोग सड़क हादसे का शिकार हो रहे हैं और हर रोज किसी न किसी के घर का चिराग बुझ रहा है। “एमपी ब्रेकिंग न्यूज़” के द्वारा लगातार हो रही सड़क दुर्घटनाओं को लेकर आवाज उठाई जा रही थी, साथ ही सिंगरौली कलेक्टर को भी दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए मांग की गई थी जिसके चलते कलेक्टर ने सड़क दुर्घटनाओं की रोकथाम के लिए जांच के आदेश दिए हैं वहीं इसके लिए एक टीम भी गठित की गई है।

यह भी पढ़ें…उपचुनाव : कमलनाथ की सभा में गरमाया ‘बागली’ का मुद्दा, अरुण यादव ने किया ये बड़ा दावा

सिंगरौली कलेक्टर राजीव रंजन मीणा ने माजन परसौना, खुटार, रजमिलान के बीच आए दिन हो सड़क हादसों के लिए जांच के आदेश दिए हैं। वहीं सात सदस्यीय भी जिला गठित की गई जांच टीम में उपखंड अधिकारी सिंगरौली, उपखंड अधिकारी माड़ा, नगर पुलिस अधीक्षक जिला परिवहन अधिकारी, थाना प्रभारी यातायात, महाप्रबंधक एमपीआरडीसी, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग शामिल है। जिला कलेक्टर द्वारा लिए गए इस फैसले से आम जनता में खुशी है, क्योकि सिंगरौली जिले में ये पहली बार हुआ है जब आये दिन हो रही सड़क दुघटनाओं को लेकर जांच करने का आदेश जारी कर टीम गठित की गई है।

आपको बता दें कि एक माह में 5 सड़क दुर्घटना में 7 लोगों की मौत हुई है और कई घायल हुए हैं। सड़क दुर्घटना का कारण सकरी सड़के और क्षतिग्रस्त गड्ढों में तब्दील सड़क के साथ-साथ सड़क के बीच डिवाइडर न होना माना जा रहा है। लेकिन अब देखना यह है कि जिला स्तरीय जांच टीम अपने जांच में इन बातों का उल्लेख करती है या नहीं।

खबर का असर : सिंगरौली में बढ़ती सड़क दुर्घटनाओं को लेकर कलेक्टर ने दिए जांच के आदेश

यह भी पढ़ें… सीएम शिवराज के मंच से निर्देश- गरीबों का राशन रोकने वालों को हथकड़ी लगाकर भेजो जेल