दिल दहला देने वाली घटना, पत्नी का गला काट कुलदेवी को चढ़ा कर पति फरार

सिंगरौली, राघवेंद्र सिंह| आज के तकनीकी युग में भी लोग अंधविश्वास (Blind Faith) की जड़ों में जकड़े हुए हैं| अंधविश्वास लोगों के दिमाग पर इतना हावी हो जाता है कि वो अपने किसी की जान लेने से भी नहीं चूकते| मामला सिंगरौली जिले (Singrauli District) का है, जहां अंधविश्वास के चलते एक पति ने अपनी पत्नी की गर्दन काटकर उसे कुल देवी को अर्पित कर दिया।

इस दिल दहला देने वाली घटना से इलाके में हड़कंप मच गया है| पुलिस के अनुसार बैढन थाना क्षेत्र में आने वाले बसौड़ा गांव के रहने वाले ब्रजेश केवट ने अपनी पत्नी बिट्टी केवट की गला काट कर हत्या कर फरार हो गया है। इसका खुलासा उसके बेटे ने ही किया जो इस पूरी वारदात का चश्मदीद गवाह है।

सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस को आरोपी के बेटे ने बताया कि पिता और मां के बीच बीती रात विवाद हुआ था। घटनास्थल पर महिला का सर धड़ से अलग मिट्टी के नीचे दबा था और बिना सर का धड़ पास में था। आसपास पूजन सामग्री यहां-वहां बिखरी पड़ी थी। पुलिस को यह समझने में देर नहीं लगी कि यह हत्या सिर्फ अंधविश्वास के चलते हुई है।

आरोपी ने पत्नी के गर्दन को कुल देवी पर चढ़ाने के बाद उसे मिट्टी के नीचे दबा दिया था। गांव के लोगों में चर्चा है कि अंधविश्वास के चक्कर में आरोपी ने पत्नी की बलि दी है। आरोपी ने रात ढाई से तीन बजे के बीच वारदात को अंजाम दिया है। बताया यह भी जा रहा है कि कुलदेवी को प्रसन्न करने के लिए इस परिवार सहित आसपास के इलाके में बेजुबान जानवरों की बलि देने की प्रथा वर्षों पुरानी है।