लोकायुक्त ने 10,000 रुपये की रिश्वत लेते डॉक्टर को गिरफ्तार किया

नौकरी पर रखे जाने के बदले प्रभारी जिला आयुष अधिकारी डॉ अनुपमा रोशन 10,000 रुपये कमीशन के रूप में रिश्वत मांग रही थी ।

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। लोकायुक्त पुलिस ने एक महिला डॉक्टर को 10,000 रुपये की रिश्वत (Bribe) लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया है।  गिरफ्तार डॉक्टर प्रभारी जिला आयुष अधिकारी है और एक व्यक्ति को आउट सोर्स पर नौकरी पर रखने के बदले कमीशन के रूप में रिश्वत की मांग कर रही थी।

जानकारी के अनुसार सिंगरौली जिले के ग्राम बंधा तहसील सरई में रहने वाले भगवान दास ने लोकायुक्त रीवा कार्यालय में (Lokayukta Police Rewa) शिकायत की थी कि विभाग से अनुबंधित पारुल एजेंसी में आउट सोर्स पर उसे और उसके पुत्र को नौकरी पर रखे जाने के बदले प्रभारी जिला आयुष अधिकारी डॉ अनुपमा रोशन 10,000 रुपये कमीशन के रूप में रिश्वत मांग रही हैं।

ये भी पढ़ें – भोपाल : सेवानिवृत्त अधिकारी के साथ ऑनलाइन फ्रॉड, फास्टैग के नाम पर ठगे डेढ़ लाख

सूचना के बाद लोकायुक्त रीवा ने आवेदक को समझाइश देकर आवेदक को डॉ अनुपमा के पास रिश्वत की राशि लेकर भेजा।  जैसे ही शिकायतकर्ता भगवान दास ने सिंगरौली प्रभारी जिला आयुष अधिकारी डॉ अनुपमा रोशन को उनके कार्यालय के चैंबर में रिश्वत की राशि 10,000 रुपये दिए पहले से तैयार लोकायुक्त पुलिस रीवा की टीम ने उन्हें रंगे हाथ पकड़ लिया। लोकायुक्त ने प्रभारी जिला आयुष अधिकारी के विरुद्ध भ्रष्टाचार से जुडी धाराओं में मामला पंजीबद्ध कर लिया।