मोरवा पुलिस की बड़ी कार्यवाही, छाई/चारकोल के 05 ट्रक किए जप्त

कोयला में मिलावट के लिए उड़ीसा से लाई जा रही थी छाई/चारकोल

सिंगरौली,राघवेन्द्र सिंह गहरवार। सिंगरौली (singrauli) जिले के मोरवा थाने से इस वक्त की बड़ी खबर सामने आ रही है जहाँ सिंगरौली पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र सिंह के नेतृत्व में मोरवा एसडीओपी राजीव पाठक के मार्गदर्शन में मोरवा थाना प्रभारी मनीष त्रिपाठी ने कोयला में मिक्सिंग के लिए उड़ीसा से लाई जा रही छाई(चारकोल) से लदे 5 ट्रकों पर कार्यवाही करते हुए जप्त किया।

यह भी पढ़े…जबलपुर में हुई लूट की 24 घण्टे में पुलिस ने किया खुलासा, 5 आरोपियों को किया गिरफ्तार

आपको बता दे कि सिंगरौली पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र सिंह के द्वारा सख्त निर्देश दिए गए थे कि कोई भी गाड़ी या व्यक्ति कोयले में मिक्सिंग हेतु छाई या चारकोल/डस्ट लाता पाया जाता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए।जिसके बाद मोरवा थाना प्रभारी अपने टीम के साथ देर रात चेकिंग के दौरान भूषा मोड़ खनहान रोड़ पर चारकोल/छाई से लोड 5 ट्रकों (1) CG15 DF 2635 चालक टुन्नू खान पिता हमीद खान उम्र 57 वर्ष निवासी जिला गढ़वा झारखंड (2)CG15 AC 5350 चालक सुरेश यादव पिता रामदास यादव उम्र 52 वर्ष निवासी डबुरा थाना औरंगाबाद बिहार (3) CG15 AC 5576 चालक राजेश दुबे पिता भुवनेश्वर दुबे उम्र 32 वर्ष निवासी केसरा थाना कमलेश्वरपुर जिला अंबिकापुर छत्तीसगढ़ (4) CG15 AC 5352 चालक राजेश यादव पिता सतानंद यादव उम्र 32 वर्ष निवासी जमुई थाना मड़िहान जिला मिर्जापुर उत्तरप्रदेश (5) CG15 AC 5734 चालक राजकुमार सिंह पिता कोलेश्वर सिंह धुर्वे उम्र 30 वर्ष बसंतपुर थाना जिला बलरामपुर छत्तीसगढ़ से 5 ट्रकों को जप्त कर ड्राइवरो को गिरफ्तार करते हुए उनके खिलाफ अपराध क्र. 369/22 धारा 379,511,420,467,468,34 भादवि पंजीबद्ध किया गया है। वही साथ मे M/S रिहन्द इंटरप्राइजेज औड़ी,अनपरा,सिंगरौली,बरगवां,मध्यप्रदेश के मालिकों की तलाश की जा रही है वही सिंगरौली जिले में चारकोल कहाँ उतरना था उनकी भी तलाश पुलिस ने तेज कर दी है।

यह भी पढ़े…डबरा में बैखोफ लुटेरे, थाने से चंद कदम की दूरी पर महिला का मंगल सूत्र लूटा

आपको बता दे कि पूरे सिंगरौली जिले में चारकोल के खिलाफ यह पहली और सबसे बड़ी कार्यवाही मानी जा रही है।इस कार्यवाही से कोलमाफ़ियाओ में हड़कंप मच गया है।वही आपको बता दे कि यह चारकोल/छाई विभिन्न पॉवरप्लांटों में भेजे जा रहे कोयले में मिलावट किया जाता था। उपरोक्त मामले का पर्दाफाश व कार्यवाही करने में मोरवा थाना प्रभारी मनीष त्रिपाठी,सहायक उप निरीक्षक अरविंद चतुर्वेदी,डी.एन सिंह,संतोष सिंह,प्रवीण मरावी,प्रधान आरक्षक संजय सिंह परिहार, अर्जुन सिंह,आरक्षक सुबोध तोमर का अहम योगदान रहा।