अजब MP के गजब किस्से : पंचायत सचिव की तीन पत्नियों ने भरा नामांकन, जनपद पंचायत CEO ने जारी किया नोटिस, मांगा जवाब

हालांकि अभी तक नामांकन खारिज नही किया गया है

सिंगरौली,डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश (mp) के सिंगरौली (singrauli) जिले के देवसर तहसील क्षेत्र के कठदहा ग्राम पंचायत से पंचायत सचिव की तीन पत्नियां है और तीनों पंचायत चुनाव लड़ रही है। जब तीनों पत्नियां ने नामांकन दाखिल किया तो लोग हैरान रह गए की पंचायत सचिव की तीनों पत्नियां एक साथ चुनावी रण के मैदान में उतरी है। हालांकि तीनों अलग-अलग पंचायत से चुनावी रण के मैदान में जंग जितने के लिए उतरी है। एक पत्नी जनपद सदस्य तो दूसरी व तीसरी सरपंच पद के लिए चुनाव के लिए नामांकन दाखिल की है।

यह भी पढ़े…MP News : लापरवाही पर बड़ा एक्शन, 14 कर्मचारी निलंबित, 7 के वेतन रोकने के आदेश जारी

बताया जा रहा है कि सिंगरौली जिले के जनपद पंचायत देवसर अंतर्गत घोंघरा पंचायत के सचिव सुखराम सिंह की तीन पत्नियां है, सुखराम अपनी पहली पत्नी को देवसर जनपद सदस्य का चुनाव के लिए नामांकन दाखिल कराया है तो वहीं दूसरी पत्नी कुसुमकली व गीता सिंह को अलग अलग ग्राम पंचायत में सरपंच पद के लिए नामांकन दाखिल कराया है।

यह भी पढ़े…MP : किसानों के लिए बड़ी खबर, समर्थन मूल्य पर मूंग खरीदी को लेकर नवीन अपडेट, CM ने की लक्ष्य बढ़ाने की मांग

अब इसे मामले में एक नया मोड़ तब आ गया जब जनपद सीईओ बिके सिंह ने हिन्दू अधिनियम के विरुद्ध जाकर तीनों को दस्तावेज में पत्नी बताने को लेकर नोटिस थमा दिया। हालांकि अभी तक नामांकन खारिज नही किया गया है, जो कि रिटर्निंग अधिकारी की कार्यशैली पर सवाल खड़े कर दिए है।

इस मामले में आईएएस देवसर एसडीएम आकाश सिंह ने कहा कि इसमें किसी पत्नी को शिकायत नही है, अगर कोई शिकायत होती तो जरूर कार्रवाई की जाती लेकिन किसी तरह की कोई शिकायत नहीं है।