पानी के लिए तरस रही जनता, सांसद करवा रही सहभोज: सीपीआई

People-craving-for-water

सिंगरौली//खुटार| राघवेन्द्र सिंह गहरवार| लोकसभा सीधी सिंगरौली 11 के सिंगरौली जिले से इस वक्त की सबसे बड़ी खबर आज सीधी सिंगरौली की सांसद रीति पाठक के द्वारा खुटार गांव में सहभोज का कार्यक्रम रखा गया था आपको बता दे कि ये वही खुटार है जहाँ की जनता पीने के पानी की किल्लत से जुंझ रही है वही खुटार जैसे कई गांव यैसे है जहाँ पीने के पानी की किल्लत हो रही है 

सिंगरौली जिले के खुटार पंचायत में सीधी सिंगरौली सांसद रीति पाठक के सहभोज वाले कार्यक्रम को विपक्षी पार्टीया आड़े हाथ लेते हुए कहा है कि चुनाव के बाद सांसद रीति पाठक को सिंगरौली की जनता की याद कभी नही नही आई लेकिन चुनाव नजदीक आते ही जनता को सहभोज कराकर अपना वोट बैंक बनाने की फिराक में है लेकिन वो भूल रही है कि ये जो पब्लिक है ये सब जानती है

वही सीपीआई पार्टी के राज्य परिषद सदस्य संजय नामदेव ने कहा कि 4 वर्ष तक सांसद महोदया कहा थी तब उन्हें सिंगरौली की जनता की याद क्यो नही आई यहाँ तक कि सांसद रीति पाठक को सिंगरौली जिले के बरगवां में उनका गोद लिया हुआ डगा गांव की भी याद उन्हें कभी नही आई कि वहाँ की जनता किस तरह कोयले के डस्ट व धूल के बीच अपना जीवन यापन कर रही बच्चे बूढ़े महिलाएं सभी कोयले के धूल के कारण आज तरह तरह की बीमारियो से ग्रसित हैं  वही उन्होंने कहा कि सिंगरौली NCL के CSR फंड से सांसद रीति पाठक सीधी के अपने गृह ग्राम में तो हैंडपम्प का खनन करवा रही है लेकिन सिंगरौली की जनता को आज तक एक भी हैंडपम्प सांसद रीति पाठक के द्वारा खनन नही करवाया गया आगे उन्होंने कहा कि क्या सिंगरौली की जनता सिर्फ वोट देने के लिए है क्योंकि सीधी जिले में 226 हैंड पम्प का खनन और सिंगरौली जिले में एक भी हैंडपम्प का खनन न होना सिंगरौली की जनता के साथ सौतेला व्यवहार है|

वही जनता से जब सहभोज के कार्यक्रम के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा कि 4 वर्ष बाद सांसद को हमारी याद आई है जब चुनाव नजदीक आ गया है तो इतने दिन तक वो कहा थी हम पीने के पानी के लिए परेशान है और सांसद महोदया एक दिन के लिए खाना खिलाने आई है  आगे उन्होंने कहा कि 4 वर्ष में एक बार खाना खिला देने से क्या हमारी समस्या का समाधान हो जायेगा हमे उनका एक दिन का खाना नही चाहिए हमे पीने के पानी के लिए हैंडपम्प चाहिये और उनके सरकार ने जो युवाओ को नौकरी देने मे वादा किया था वो पूरा करे हमारे बाल बच्चे पढ़ लिख कर बेरोजगार है जबकि प्रधानमंत्री जी ने बोला था कि हमारी सरकार बनेगी तो लोगो के खाते में 15 लाख आयेंगे लेकिन 15 लाख तो दूर 15 रुपये भी नही आये यैसे में कम से कम अपना एक वादा तो पूरा करे युवाओ को रोजगार दे नही तो कही यही बेरोजगार युवा मध्यप्रदेश राजस्थान छत्तीसगढ़ की तरह केंद्र में भी परिवर्तन न लादे

वोटरो को लुभाने के लिए फूलो की खेली गई होली

चुनाव नजदीक आते देख आज सीधी सिंगरौली सांसद कार्यकर्ता सम्मान के कार्यक्रम में वोटरो को लुभाने के लिए फूलो की होली खेलती नजर आई सांसद ने अपने हाथो में फूल लेकर लोगो पर फूलो की वर्षा कर रही थी मानो आज ही होली हो खैर ये राजनीति है यहाँ चुनाव जीतने के लिये नेता कुछ भी कर गुजर जाते है ये तो सिर्फ एक फूलो की वर्षा थी