पुलिस ने अवैध शराब के साथ शातिर अपराधी को किया गिरफ्तार

Police-arrested-illicit-liquor-with-vicious-criminals

सिंगरौली। राघवेन्द्र सिंह।

आगामी लोकसभा चुनाव हेतु जिले में लागू आचार संहिता के मद्देनजर गोरबी पुलिस ने शातिर अपराधी को अवैध शराब की खेप के साथ रंगे हाथों पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। जानकारी के अनुसार अपने गश्त के दौरान गोरबी चौकी में पदस्थ प्रधान आरक्षक अनिल मिश्रा को मुखबिर से सूचना प्राप्त हुई की एक व्यक्ति द्वारा बिक्री हेतु अवैध शराब की भारी मात्रा में खेप ले जाई जाई जा रही है। जिसकी सूचना उसने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को दी।

अपराध के संबंध में सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक हितेश चौधरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक प्रदीप शिंदे व एसडीओपी मोरवा डॉ कृपाशंकर द्विवेदी के निर्देशन एवं गोरबी चौकी प्रभारी उदय चंद्र करिहार के मार्गदर्शन में टीम गठित कर अपराधियों की धरपकड़ हेतु भेजा गया। सादी वर्दी में पहुंची टीम ने पुराने कांटा मोड पर घेराबंदी कर मुखबिर द्वारा बताए हुए वाहन क्रमांक UP 64E 0599 को रोकने का प्रयास किया परंतु वाहन चालक द्वारा गाड़ी न रोककर मौके से फरार होना का प्रयास किया। पुलिस से बचने के चक्कर में शराब लदा वाहन दुर्घटना का शिकार हो गया। 

दुर्घटनाग्रस्त वाहन से पुलिस घायल अपराधी को निकालकर पकड़ने का प्रयास कर ही रही थी की शातिर अपराधी ने पुलिस टीम पर हमला बोल दिया। जिसमें आरक्षक कयामुद्दीन अंसारी को कुछ चोटें भी आई हैं। कड़ी मशक्कत के बाद पुलिस टीम ने अवैध शराब लदे वाहन चालक मुलायम सिंह वैश्य पिता रोहिणी प्रसाद वैश्य उम्र 35 वर्ष निवासी चिंगो थाना बरगवां को धर दबोचा। पुलिस ने उक्त वाहन से 45000 कीमत की कुल 108 लीटर अंग्रेजी व देसी मदिरा जप्त की है। पकड़े गए आरोपी ने बताया7 की उसने यह शराब गोरबी मदिरा दुकान से खरीदी थी। जिससे वह अपने गृह ग्राम चिंगो में बेचने की फिराक में था। पुलिस ने उक्त आरोपी को अवैध रूप से शराब ले जाने, पुलिस के साथ मारपीट करने व लापरवाही से वाहन चलाने के मामले में अपराध क्रमांक 0/19 धारा 332, 353, 186, 279, 109 आईपीसी व 34(2) आबकारी एक्ट के तहत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया है। वहीं इस मामले में गोरबी शराब दुकान के मैनेजर पर भी मामला पंजीबद्ध किया है।

आदतन अपराधी है आरोपी

गोरबी चौकी प्रभारी उदयचंद करिहार ने बताया कि आरोपी मुलायम सिंह वैश्य शातिर प्रवृत्ति का आदतन अपराधी है। आरोपी द्वारा अंतरराज्य स्तर पर कई अपराधों को अंजाम दिया गया है। थाना बरगवां में भी इसके खिलाफ अपराध पंजीबद्ध हैं। जिसमें दो पुलिस कर्मियों के साथ मारपीट एवं एनडीपीएस एक्ट में मामला पंजीबद्ध है।उक्त कार्यवाही में गोरबी चौकी प्रभारी उदयचंद करिहार के साथ सहायक उपनिरीक्षक सुरेश सिंह, प्रधान आरक्षक अनिल मिश्रा, अरुण सिंह, आरक्षक कयामुद्दीन अंसारी, रामेश्वर धाकड़, प्रतीक बढ़ोलिया की सराहनीय भूमिका रही