मुक्तिधाम सामूहिक दुष्कर्म का पुलिस ने किया खुलासा, चार आरोपी गिरफ्तार

police-revel-rape-case-held-in-singrauli-

सिंगरौली// राघवेन्द्र सिंह

सिंगरौली-सिंगरौली एसपी हितेष चौधरी के निर्देशन व ए एस पी प्रदीप शेंडे के मार्गदर्शन में  टी आई मनीष त्रिपाठी ने कोतवाली क्षेत्र के सासन चौकी अंतर्गत सामूहिक बलात्कार व अंधी हत्याकांड में शामिल  एक नाबालिक सहित 4  बलात्कारी सह हत्यारोपियों को घटना के छठवें दिन काफी मशक्कत के बाद गिरफ्तार कर  लिया गया।

        उक्ताशय का खुलासा  ए एसपी प्रदीप शेंडे  ने पत्रकारों के समक्ष किया।  इस दौरान कोतवाली टी आई मनीष त्रिपाठी व सासन चौकी प्रभारी बालेंद्र त्यागी मौजूद रहे। श्री शेंडे ने  बताया कि घटना दिनांक 20 फरवरी को सासन चौकी क्षेत्र के मुक्तिधाम के पास मृतिका सुमारी उर्फ पूजा उर्फ पटरखी बियार पत्नी वीरेंद्र चौधरी उम्र 35 निवासी भाड़ी का शव मिला था। मृतिका के साथ सामूहिक बलात्कार कर उसकी हत्या की गई थी। श्री त्रिपाठी ने आगे बताया कि सासन अंधी हत्याकांड का  जल्द से जल्द खुलासा करने के निर्देश एस पी श्री चौधरी द्वारा दिया गया। तत्पश्चात  सासन चौकी व कोतवाली की पुलिस टीम  विवेचना में जुट गई, लिहाजा घटना के छटवें दिन आरोपियों का सुराग लगा और सभी को एक -एक करके गिरफ्तार कर लिए गया। गिरफ्तार आरोपियों में ऑटो चालक गोविंद प्रसाद पनिका पुत्र राम तौकल पनिका उम्र 19 वर्ष निवासी सिद्धिकला,उमाशंकर वैश्य पुत्र रामरक्षा वैश्य उम्र 20 वर्ष निवासी पिपरा , वंशमणि पनिका पुत्र रामकेवल पनिका उम्र 23 वर्ष निवासी सिद्धिकला व नाबालिक ओम प्रकाश उम्र 16 के खिलाफ  धारा 302, 201, 376 के तहत कार्यवाही कर जेल भेज दिया गया। 

3 घंटे के अंतराल दो बार हुआ सामूहिक बलात्कार

मामले के विस्तृत जानकारी में ए एस पी श्री शेंडे ने बताया कि घटना दिनांक 19 फरवरी की रात 10 बजे पहले मृतिका के साथ चार ने बलात्कार किया और उसके बाद रात 1 बजे नाबालिक ऑटो चालक सहित चार ने बलात्कार किया और विरोध करने पर उसे लात घुसो से  मार दिया जिससे उसकी मौत हो गयी। श्री शेंडे के अनुसार पहली बार बलात्कार के बाद आरोपी इंद्रजीत पनिका के घर जन्म उत्सव में गए और वहाँ से नशे में धुत हो लौटे और दोबारा उसके साथ बलात्कार किया।

ऑटो चालक से मिली सुराग

ए एस पी श्री शेंडे ने बताया कि  विवेचना के दौरान पुलिस टीम को जन्म उत्सव कार्यक्रम में शामिल एक आदमी से जानकारी मिली कि घटना दिनांक को ऑटो क्रमांक mp66R1346 में मृतिका को देखा गया था, यह सुराग मिलते ही टी आई मनीष त्रिपाठी एंड टीम ने   चालक गोविंद पनिका को उठा कर कड़ाई से जैसे ही पूछताछ की बोलते तोते की तरह आरोपियों व घटनाक्रम के बारे में बता दिया। 

कार्यवाही में ये रहे शामिल

सामूहिक बलात्कार व अंधी हत्याकांड के खुलासे में टी आई मनीष त्रिपाठी ,सासन चौकी प्रभारी बालेंद्र त्यागी, आर एच सोनकर, डी एन सिंह, सतेंद्र अग्निहोत्री ,अरविंद आर, संजय सिंह परिहार, रविनंदन, रवि सिंह, पंकज सिंह, महेश पटेल व महिला आरक्षक शकुंतला की सराहनीय भूमिका रही है।