Singrauli News : वाहनों से डीजल व बैटरी चोरी करने वाला गिरोह पकड़ाया, 2 नाबालिग सहित 11 गिरफ्तार

यह चोर गिरोह (thief gang) रात के अंधेरे में मोरबा मुख्य मार्ग में खड़े वाहनों से डीजल व बैटरी चोरी करता था, जिसको पुलिस ने धर दबोचा।

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। सिंगरौली (Singrauli) में पुलिस (police) को एक चोरी करने वाले गिरोह को पकड़ने में सफलता हाथ लगी है। दरअसल यह चोर गिरोह (thief gang) रात के अंधेरे में मोरबा मुख्य मार्ग में खड़े वाहनों से डीजल व बैटरी चोरी करता था, जिसको पुलिस ने धर दबोचा। पकड़े गए गिरोह में दो नाबालिग सहित 11 लोग शामिल है ।

यह भी पढ़ें…Transfer : वन विभाग में थोकबंद तबादले, देखिये लिस्ट

जानकारी के अनुसार मोरवा पुलिस को कुछ दिनों से चोरी की शिकायत मिल रही थी कि कुछ डीजल चोर व कबाड़ी क्षेत्र में सक्रिय हुए हैं। जो मेन रोड मोरवा से लेकर खनहना तक रात में खड़ी कोल व अन्य गाड़ियों से डीजल निकालते हैं। जिसके बाद सिंगरौली पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र सिंह के निर्देश पर एसडीओपी मोरवा राजीव पाठक एवं थाना प्रभारी मोरवा मनीष त्रिपाठी द्वारा बीती रात बड़ी कार्रवाई कर 11 शातिर चोरों एवं कबाड़ियों को गिरफ्तार किया गया है। पुलिस ने बताया कि शिकायत के बाद थाना प्रभारी मोरवा द्वारा और दूसरी उपनिरीक्षक विनय शुक्ला के नेतृत्व में दो टीम गठित की गई।

पुलिस की दोनों टीम के द्वारा रात में चटका नाला एवं एनसीएल ऑफिस के सामने घेराबंदी कर झाड़ियों में छुपकर चोरों का इंतजार करने लगे। वहीं जैसे ही चोर गिरोह वारदात को अंजाम देने के लिए आए तो पुलिस की टीमों द्वारा उन्हें पकड़ लिया गया। पुलिस ने जानकारी देते हुए बताया कि पकड़े गए 11 लोगों में दो नाबालिग शातिर चोर भी शामिल है। जिनके ऊपर पर कई अपराध दर्ज है। आरोपियों में क़नूहड़ निवासी रामा बैगा, रामकेवल बैगा, ददाले बैगा, सोनू बैगा, रामसकल बैगा, रायसिंह, राजमन सिंह, लक्ष्मण बिंद एवं भगवानदास बिंद शामिल है जो पूर्व में भी पकड़े जा चुके हैं। पुलिस को इनके पास से लोहे की रॉड, टॉर्च, जरीकेन, डंडा, कुल्हाड़ी मिले है। पुलिस ने सभी आरोपियों के खिलाफ अपराध क्रमांक 491/ 21 दर्ज किया है। फ़िलहाल पुलिस सभी आरोपियों से पूछताछ कर रही है। जिसकी निशानदेही पर अन्य डीजल खरीददारों को भी गिरफ्तार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें…Chhindwara : तेज बहाव से क्षतिग्रस्त हुआ कन्हान नदी पर बना पुल, 20 गावों का संपर्क टूटा