सिंगरौली : बरगवां में संचालित निजी क्लीनिक में मिली आरएटी किट, पुलिस ने मारा छापा, मचा हड़कंप

सिंगरौली, राघवेन्द्र सिंह गहरवार। पूरे मप्र (MP) में इंजेक्शन से लेकर ज़रूरी दवाइयों की कालाबाजारी का खेल जोरो पर चल रहा है अब सिंगरौली (Singrauli) जिले में आपदा में अवसर का खेल करने का ताजा मामला सामने आया है, जहां बरगवां बाजार स्थित संजीवनी हॉस्पिटल में कोरोना आरएटी किट(Corona RAT Kit) व ओपीडी की पर्चियां मिलने से स्वास्थ्य महकमे में हड़कम्प मचा है। मौके पर पहुंचे एसडीएम विकास सिंह की अगुवाई में बीएमओ एवं टीआई ने नर्सिंग होम को सीज करते हुए जांच शुरू कर दी है। वहीं सरई में डॉ.रामनरेश साहू के क्लीनिक में भी स्थानीय सरकारी अमले द्वारा ताला जड़ दिया गया है।

यह भी पढ़ें…इंदौर : कॉमन बाथरूम बना हत्या की वजह, पुलिस ने किया आरोपी को गिरफ्तार

जानकारी के अनुसार देवसर एसडीएम विकास सिंह को सूचना मिल रही थी कि बरगवां स्थित संजीवनी हॉस्पिटल में कोरोना मरीजों का ईलाज हो रहा है और वहां जिला चिकित्सालय बैढ़न की ओपीडी की पर्चियां भी मुहैया करायी जा रही हैं। इसकी सूचना को एसडीएम ने गंभीरता से लेते हुए कलेक्टर राजीव रंजन मीणा एवं पुलिस अधीक्षक को अवगत कराते हुए देवसर बीएमओ सी.एल सिंह, नायब तहसीलदार राजकुमार कोल, बरगवां टीआई नागेन्द्र प्रताप सिंह के साथ उक्त निजी हॉस्पिटल में पहुंच छापामार कार्रवाई की गयी। जहां चौकाने वाला मामला सामने आया है। सूत्र बताते हैं कि मौके पर जिला चिकित्सालय की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट की पर्चियां भी मिली हैं। इसके अलावा सबसे चौकाने वाला मामला आरएटी किट मिलने का हैं। एसडीएम के नेतृत्व में पर्चियों एवं किट को जब्त करते हुए उक्त नर्सिंग होम को सील कर दिया है। साथ ही मामले की जांच तेज कर दी गयी है। इस बात का पता लगाया जा रहा है कि नर्सिंग होम के संचालक जिला चिकित्सालय कोरोना रिपोर्ट की पर्ची व कोरोना की आरएटी किट कहां से मिली है। फिलहाल नर्सिंग होम का संचालक भूमिगत हो गया है। साथ ही सरई स्थित डॉ.रामनरेश साहू के क्लीनिक को भी स्वास्थ्य, पुलिस एवं राजस्व की टीम ने सीज किया है। इस क्लीनिक के संचालक पर गंभीर आरोप लगाए जा रहे है, इस वाक्य के बाद पुलिस भी तेजी से जांच में जुट गई है।

यह भी पढ़ें…एकता परिषद को ग्रामीणों ने बताई अपनी समस्या, कोरोना कर्फ्यू में गुजारा करना हो रहा मुश्किल