सिंगरौली में आरटीओ चेक पोस्ट बना वसूली का अड्डा, जिम्मेदार मौन

चेक पोस्ट पर वसूली को लेकर भाजपा नेता कर चुके हैं कार्यवाही की मांग

सिंगरौली,राघवेन्द्र सिंह गहरवार। सिंगरौली (singrauli) जिले में मौजूद आरटीओ चेक पोस्ट (singrauli RTO Check Post) जहां आम वाहन मालिकों को खासी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है, लूट का शिकार होना पड़ता है, जांच के नाम पर घंटो तक खड़े होकर समय बर्बाद करना पड़ता है। जिससे देश प्रदेश के तमाम मोटर मालिक कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं। जबकि दैनिक रूप से चलने वाली गाड़ियों में तमाम तरह के उचित कागजात मौजूद रहते हैं। फिर भी जांच के नाम पर वसूली किए जाने के लिए गाड़ियों को बेवजह खड़ा कराया जाता है। गुड्स की गाड़िया एक स्थान से दूसरे स्थान आवश्यक सामान का परिवहन करने निकलती हैं तो कही उन्हें पुलिस रोक लेती है तो कही उन्हें आरटीओ चेक पोस्ट में रोका जाता है।

यह भी पढ़े…160W फास्ट चार्जिंग के साथ जल्द होगा OnePlus Ace लॉन्च, जाने कीमत 

चेक पोस्ट पर लूट का कारोबार जोरों पर
जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों में आरटीओ चेक पोस्ट बनाए गए हैं इन आरटीओ चेक पोस्ट पर कहने को तो गाड़ियों की जांच की जाती है परंतु असल खेल तो कुछ और ही है दरअसल, आरटीओ चेक पोस्ट व उप चेक पोस्ट जिले में स्थापित किए गए हैं बाहर से आने वाली सभी गाड़ियां लगभग इनकी जद से होकर ही गुजरती है। ऐसे में वाहन चालकों को पहले तो वाहन को साइड में लगा कर पेपर चेक करवाने के लिए कहा जाता है जब चालक परिचालक गाड़ियों के समस्त दस्तावेज संबंधित अधिकारी के पास दिखाने के लिए जाते हैं तो वहां मौजूद गैर शासकीय व्यक्तियों के द्वारा गाड़ियों के पेपर चेक किए जाते हैं एवं उन पेपरों में खामी बता कर उनसे रुपए की मांग की जाती है और चालक एवं परिचालक पर मनमानी तरीके से पैसे की मांग की जाती है इतना ही नहीं अपशब्द एवं गाली-गलौच तक की बात पीड़ित चालकों के द्वारा कैमरे में बताया गया है।

यह भी पढ़े…राजधानी भोपाल में बनाई जाएगी Dr. BR Ambedkar की सबसे बड़ी प्रतिमा : पूर्व मुख्यमंत्री

पंजाब प्रांत से आई गाड़ियों से वसूले 5000
अंबाला से चलकर सोलर प्लेट लेकर आई गाड़ियों को खनहाना चेक पोस्ट पर गाड़ियों को रुकवाया गया फिर संबंधित चालकों से कहा गया की अपने पेपर लेकर साहब को दिखाएं जब तीनों गाड़ियों के ड्राइवर पेपर लेकर पहुंचते हैं तो उनके गाड़ियों के पेपर देखने के बाद मौजूद व्यक्ति ने ₹5000 की डिमांड कर दी एवं उनसे कहा गया कि ट्रक ट्रेलर में मौजूद गुड्स की हाइट ज्यादा है जिसके एवज में उनका जुर्माना किया जाएगा संबंधित बात का जवाब देते हुए चालक ने हवाला दिया कि अंबाला से चलकर सिंगरौली पहुंचने के पहले ही कई चेकपोस्ट पर क्लीन चिट दी जा चुकी है एवं ट्रक ट्रेलर पर मौजूद गुड्स की हाइट निर्धारित मापदंड के अनुसार है संबंधित बात सुनकर मौजूद व्यक्ति ने उन्हें अपशब्द कहना शुरू कर दिया एवं धमकी तक दे डाली जिसके बात ₹5000 पर ट्रक के हिसाब से उनसे पैसे लिए गए जबकि जुर्माना के बाद मिलने वाली रसीद साथ की होती है कौन है मामूली सा टोकन प्रदान कर दिया।

यह भी पढ़े…Jabalpur News: कुंडम थाना के उचेहरा में हुई हत्या की पुलिस ने सुलझाई गुत्थी

चेक पोस्ट पर वसूली को लेकर भाजपा नेता कर चुके हैं कार्यवाही की मांग
आरटीओ चेक पोस्ट में वसूली एवं दादागिरी का जो अलग है दरअसल वह किसी से छुपा नहीं है आरटीओ चेक पोस्ट पर मौजूद कर्मी एवं किराए पर रखे गए लोगों के द्वारा खुलेआम वसूली को अंजाम दिया जाता है विगत कुछ माह पूर्व में विंध्य नगर क्षेत्र में स्थित आरटीओ चेक पोस्ट में अवैध वसूली को लेकर थाने भाजपा नेताओं ने धरना तक दिया था एवं आरटीओ चेक पोस्ट पर तैनात रवि मिश्रा के खिलाफ कार्रवाई की मांग भी की थी भाजपा नेताओं के द्वारा संबंधित गर्मी के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर कहा गया था कि प्रभारी मंत्री इससे भी इसकी शिकायत की जाएगी परंतु डबल इंजन की सरकार वाली भाजपा अपने ही नेताओं कि बात शायद अनसुना कर बैठी तो वही थानी नेताओं की बातों से वाहन चालकों ने यहां तक कहा था की भाजपा के नेताओं के द्वारा इस मुद्दे को उठाने के बाद चेक पोस्ट पर मौजूद लोगों के द्वारा अवैध वसूली पर लगाम लग सकेगा परंतु माह बीत जाने के बाद भी अब तक कोई कार्यवाही होती नजर नहीं आ रही है जिसे ऐसा प्रतीत होता है, कि संबंधित नेताओं के द्वारा हवा हवाई बातें की गई थी जो महज बात बन कर रह गई।