कलेक्टर बोले- मेरी सैलरी रोको, पहले पटवारियों को वेतन दो

The-collector-said---Stop-my-salary

सिंगरौली।

प्रशिक्षु पटवारियों का चार माह का वेतन रोके जाने पर कलेक्टर अनुराग चौधरी ने कोषालय अधिकारियों को निर्देश दिया है कि मेरी सैलरी रोककर पहले पटवारियों को वेतन दिया जाए।साथ ही उन्होंने कहा कि मेरे वेतन से पहले मेरे अधिनस्थ अधिकारियों-कर्मचारियों को वेतन दिया जाए।कलेक्टर के इस फरमान के बाद अधिकारियों में हड़कंप मचा हुआ है। बताते चले कि जिले में प्रशिक्षण ले रहे 227 पटवारियों को ज्वाइनिंग के बाद से आजतक कोई पैसा नही मिला है, जिसके चलते प्रशिक्षु पटवारियों में नाराजगी है। 

दरअसल कई महिनों से जिलें में प्रशिक्षु पटवारी बिना वेतन के काम कर रहे है. इस बात को लेकर सोमवार को कलेक्टर अनुराग चौधरी ने टीएल बैठक में कड़ी नाराजगी जाहिर की और राजस्व अधिकारियों को इसके लिए फटकार भी लगाई। कलेक्टर अनुराग चौधरी ने जिला कोषालय अधिकारी को निर्देश दिया है कि जब तक प्रशिक्षु पटवारियों को वेतन जारी नहीं होता तब तक उनका भी वेतन भुगतान रोक दिया जाए। उन्होंने कहा है कि बड़े दुख की बात है कि बड़े अधिकारियों को भुगतान समय पर हो जाता है। वहीं इन्हीं अधिकारियों के कार्यालय में कार्यरत कर्मचारियों के वेतन का भुगतान समय पर नहीं होता है। 

कलेक्टर चौधरी ने कहा कि कि यह मेरी नैतिक जवाबदारी है यह पटवारी हमारे अंडर में काम करते हैं और हम इन के अधिकारी हैं। इनका हर तरह से ख्याल रखना भी मेरी जवाबदारी बनती है. इसलिए जब तक इनका वेतन नहीं आएगा तब तक मैं खुद एडीएम एसडीएम और तहसीलदार किसी की भी वेतन नहीं दी जाएगी।