मोरवा पुलिस को मिली सफलता, इस नामी डकैत गिरोह के चार सदस्यों को हथियार समेत पकड़ा

The-success-of-the-Morva-police

सिंगरौली। राघवेंद्र सिंह

मोरवा गोरबी रोड में परेवानाला के समीप घात लगाकर राहगिरों को निशाना बनाने की योजना बना रहे डकैत गिरोह के चार सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार करने में बड़ी सफलता हासिल की है। बदमांशों के पास से लोहे का पिस्टल, कारतूस, बका, लोहे की रॉड समेत लाखो रुपए के एंड्रॉयड फोन व भारी मात्रा में अवैध डीजल बरामद किया है। यह कार्रवाही थाना पभारी अनूप सिंह ठाकुर ने नवागत एसपी अविजीत कुमार रंजन, एएसपी प्रदीप शेण्डे एवं एसडीओपी डॉ.कृपाशंकर द्विवेदी के मार्गदर्शन में अपनी पुलिस टीम के साथ की है। 

पुलिस अधीक्षक कार्यालय में प्रेस वार्ता कर पुलिस अधीक्षक अविजीत कुमार रंजन ने मीडिया को बताया की मुखबीर से मोरवा पुलिस को सूचना मिली की सिंगरौली गोरबी रोड पर परेवानाला के समीप चमरखोर जाने वाले रास्ते के पास बने पहाड़ के नीचे कुछ संदिग्ध लोग हथियार से लैश होकर घात लगाकर आने-जाने वाहनो एवं राहगिरों को निशाना बनाकर लूटने की योजना बना रहे है। मुखबिरो की इस सूचना के बारे में टीआई अनूप सिंह ठाकुर ने अपने वरिष्ठ अधिकारियों को अवगत कराते हुए पुलिस टीम के साथ शुक्रवार देर रात उक्त स्थान पर घेराबंदी करते हुए दबिश दी। जहां डकैती व लूटपाट की योजना बना रहे आरोपी भगवानदास बिंद पिता बबुन्दर प्रसाद बिंद (26), राजेंद्र बिंद पिता अमेरिका प्रसाद बिंद उम्र (23), रामबहादुर बिंद पिता रामकृपाल बिंद (28) एवं लक्ष्मण बिंद पिता जमुना बिंद (22) सभी निवासी पुआरी टोला ग्राम खिरवा थाना मोरवा को गिरफ्तार करते हुए उनके कब्जे से एक लोहे की पिस्टल, जिंदा कारतूस, 2 बका, लोहे की रॉड समेत पैनासोनिक, एमआई के 5 एंड्राइड मोबाइल फोन, दो जरकिन में 150 लीटर डीजल कुल कीमत 145000/ की मशरुका जप्त करने में कामयाबी मिली है। वहीं एक आरोपी अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहा है। फरार आरोपी की पुलिस सरगर्मी के साथ तलाश कर रही है। गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ भादवि की धारा 399, 400, 402 एवं आर्म्स एक्ट 25, 27 के तहत अपराध पंजीबद्ध करते हुए न्यायालय में पेश किया गया है। जहां से उन्हें जेल भेज दिया गया है। 

गिरफ्तार किए गए शातिर अपराधियों ने इसके पूर्व में कई घटनाओं को अंजाम देने के अपराध को कबूल किया है।

उक्त कार्रवाही में मोरवा थाने के टीआई के साथ-साथ गोरबी चौकी प्रभारी उपनिरीक्षक उदयचंद करिहार, पीएसआई अमन कुमार वर्मा, सहायक उपनिरीक्षक एलएन द्विवेदी, सुरेश सिंह, प्रधान आरक्षक राजवर्धन सिंह, दिनेश कुमार, रवि गोस्वामी, आरक्षक अनूप मिश्रा, नरेंद्र यादव, कयामुद्दीन अंसारी, सुबोध तोमर, महिला आरक्षक ज्योति पांडे, सैनिक रामसिया विश्वकर्मा की सराहनीय भूमिका रही।