शौक को पूरा करने के लिए देते थे चोरी की घटना को अंजाम, SIT टीम ने गिरोह को धर दबोचा

शौक को पूरा करने के लिए चोरी की घटनाओं को अंजाम देने वाले गिरोह का पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया है।

बालाघाट, सुनील कोरे। बालाघाट कोतवाली क्षेत्र में बढ़ती चोरियों की घटना आम लोगो के साथ ही पुलिस के लिए चिंता का विषय थी। एक के बाद एक होती चोरी की घटना से पुलिस सुरक्षा पर भी सवाल खड़े हो रहे थे, हालांकि चोरी की वारदात को अंजाम देकर फरार होने वाले चोरो की चुनौती को स्वीकार करने के बाद पुलिस ने सूचना तंत्र की मदद से 6 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से हाल ही में नर्मदा नगर निवासी शिक्षिका प्रीति श्रीवास्तव के सूने घर से हुई चोरी के अलावा फारेस्ट विभाग (Forest Department) से लोहे की आरे की चोरी और सिविल लाईन में इंश्योरेंस एजेंट से हुई लूट का पता चला है। पुलिस पूछताछ में आरोपियों ने स्वीकार किया है कि उक्त वारदात को उनके द्वारा अंजाम दिया था। पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने बताया कि आरोपियों को 26 मार्च को कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जायेगा। जिनसे पूछताछ में और भी चोरियों के खुलने की संभावना है।

यह भी पढ़ें….MP : यहां लगा 2 दिन का टोटल लॉकडाउन, प्रशासन ने जारी किए आदेश

शौक को पूरा करने के लिए देते थे चोरी की घटना को अंजाम, SIT टीम ने गिरोह को धर दबोचा

पुलिस की मानें तो आरोपी आदतन चोर है, जिनके खिलाफ पुलिस में चोरी के रिकॉर्ड दर्ज है। जो अपने शौक को पूरा करने के लिए चोरियों की घटना को अंजाम देते थे। पुलिस ने नर्मदा नगर निवासी शिक्षिका प्रीति श्रीवास्तव के घर हुई चोरी मामले में चोरी किये गये आभूषणों की बरामदगी कर ली है, जबकि चोरी किये गये नगद रूपये को चोरो ने खर्च कर लिये थे। जबकि फारेस्ट विभाग से लोहे के 45 आरे चोरी मामले में पुलिस ने 25 आरे बरामद किये है, शेष आरों के बारे में भी पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। जबकि सिविल लाईन क्षेत्र में हुई इंश्योरेंस एजेंट से 30 हजार रूपये की लूट मामले में पुलिस ने 7 हजार रूपये बरामद किये है।

शौक को पूरा करने के लिए देते थे चोरी की घटना को अंजाम, SIT टीम ने गिरोह को धर दबोचा

शिक्षिका के घर 4 चोरो ने वारदात को दिया था अंजाम
पुलिस ने बीते रविवार और सोमवार की दरमियानी रात्रि नर्मदा नगर निवासी शिक्षिका प्रीति श्रीवास्तव के घर चार युवकों ने चोरी की घटना को अंजाम दिया था। जिन्होंने शिक्षिका के सुने घर का फायदा उठाकर घर में घुसकर सोने, चांदी के आभूषण और नगद रूपये की चोरी की थी। जिसमें पुलिस ने नवेगांव थाना अंतर्गत कोसमी निवासी 20 वर्षीय नितिन उर्फ क्रिस पिता सुरेश पटले, 23 वर्षीय राहुल उर्फ नेतलाल नागेश्वर, 20 वर्षीय रितिक उर्फ अक्कू पिता राजकुमार ब्रम्हें और लालबर्रा थाना अंतर्गत ददिया निवासी 21 वर्षीय निलेश उर्फ निली पिता स्व. भोजलाल पटले को गिरफ्तार किया है। इसमें नितिन पटले, निलेश पटले और राहुल नागेश्वर, सिविल लाईन क्षेत्र में इंश्योरेंस एजेंट से की गई 30 हजार रूपये की लूट में शामिल थे। पुलिस ने आरोपियों के पास से लूट की वारदात में प्रयुक्त मोटर सायकिल भी बरामद की है।

फारेस्ट विभाग से चोरी की घटना में दो आरोपी गिरफ्तार
पुलिस ने फारेस्ट विभाग में हुई 45 लोहे के आरे के चोरी के मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। नवेगांव थाना अंतर्गत कोसमी निवासी 21 वर्षीय आकाश पिता दिलीप डोंगरे और 20 वर्षीय रवि उर्फ छर्रा पिता शैलेष बागड़े को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से पुलिस ने चोरी किये गये 25 नग लोहे के आरे को बरामद किया है। जिनसे पुलिस शेष चोरी किये गये आरे को लेकर पूछताछ कर रही है।

2 चोरी और एक लूट की वारदात में आरोपियों को चोरी किये गये सामान के साथ गिरफ्तार करने में पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक गौतम सोलंकी के मार्गदर्शन तथा सीएसपी कर्णिक श्रीवास्तव के निर्देशन में कोतवाली थाना प्रभारी मंशाराम रोमड़े, एसआई विकास यादव, दीपक चौहान, एएसआई बी.आर. मेश्राम, देवकंठ सोनी, प्रधान आरक्षक सुधीर श्रीवास, दिनेश कुंभरे, आरक्षक दारासिंह बघेल, गजेन्द्र माटे, शैलेष गौतम, जयपाल निकुरे, सूरज बरकड़े, यशवंत अगासे, राम रावेट और महिला आरक्षक सुषमा कटरे का सराहनीय योगदान रहा।

शौक को पूरा करने के लिए देते थे चोरी की घटना को अंजाम, SIT टीम ने गिरोह को धर दबोचा

पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने जानकारी देते हुए बताया कि वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में एंटी क्राईम को लेकर पुलिस द्वारा एसआईटी टीम गठित की गई है। जो लगातार एंटी क्राईम के मामले को लीड कर उसके निराकरण में जुटी है। 2 चोरी और लूट का फर्दाफाश भी एसआईटीम टीम द्वारा किया गया है। चोरी और लूट में पकड़ाये गये आरोपी आदतन आरोपी है। जिनके पूर्व के अपराधिक रिकॉर्ड पुलिस में दर्ज है। जिनसे पूछताछ में और भी मामले के खुलासे होने की उम्मीद है, जिन्हें मामले में न्यायालय (Court) में पेश कर उनका पीआर लिया जायेगा। जल्द ही अन्य और चिन्हित अपराधों को लेकर पुलिस कार्यवाही कर रही है जिसके परिणाम जल्द ही सामने आयेंगे।

यह भी पढ़ें….Minimum support price: अब समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी 27 मार्च से होगी प्रारंभ, पहले 22 मार्च थी निर्धारित तारिख