Indore : इंदौर में लगी 1,000 बाइक टैक्सी पर अचानक रोक, ये है बड़ी वजह

मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) के सबसे बड़े शहर इंदौर (Indore) में काफी ज्यादा परिवहन सेवा उपलब्ध है। दरअसल, इंदौर में आपको बस ऑटो रिक्शा बाइक टैक्सी के साथ ही अन्य परिवहन सुविधा मिल जाती है।

indore

इंदौर, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (Madhyapradesh) के सबसे बड़े शहर इंदौर (Indore) में काफी ज्यादा परिवहन सेवा उपलब्ध है। दरअसल, इंदौर में आपको बस ऑटो रिक्शा बाइक टैक्सी के साथ ही अन्य परिवहन सुविधा मिल जाती है। लेकिन अभी हाल ही में इंदौर के परिवहन विभाग ने सुरक्षा और नियमन को देखते हुए बाइक टैक्सी पर अचानक रोक लगा दी है।

बताया जा रहा है कि इंदौर में करीब एक हजार से ज्यादा गाड़ियां बाइक टैक्सी की चल रही थी जिस पर अब अचानक रोक लगा दी गई है। जिस वजह से गाड़ियों के चक्के थम गए हैं। इसकी जानकारी परिवहन विभाग के एक अधिकारी द्वारा दी गई है। बता दें, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी जितेंद्र रघुवंशी ने कहां है कि अलग-अलग शिकायतों के मिलने के बाद बड़े स्तर पर जांच की गई, जिसमें यह पाया गया कि शहर में बाइक टैक्सी का परिचालन सुरक्षा के लिहाज से ठीक नहीं है।

Must Read : सहारा इंडिया: प्रताड़ित महिला ने शहर छोड़ा, मुख्यमंत्री से की यह फरियाद

इतना ही नहीं यह भी बात सामने आई है कि जिस कंपनी द्वारा बाइक टैक्सी का ऐप चलाया जा रहा था। उसका पूरे संबंध गाड़ियों और चालकों का समुचित देवरा परिवहन विभाग को नहीं दिया। साथ ही इस कंपनी के नियमन में भी कई मुश्किलें देखने को मिली जिस वजह से विभाग द्वारा अचानक बाइक टैक्सी पर रोक लगा दी गई।

आगे अधिकारी ने बताया कि इंदौर में ओला, रैपिडो और अन्य ऐप आधारित कंपनियां शहर में 1,000 से ज्यादा टैक्सी में का संचालन बंद कर दिया। ऐसे में उन्होंने कहा है कि ऐसे में अब अगर कोई व्यक्ति शहर में अपनी गाड़ी को बाइक टैक्सी के रूप में चलाता पाया गया, तो उसका वाहन जब्त कर लिया जाएगा और परिवहन विभाग में गाड़ी का पंजीयन निरस्त कर दिया जाएगा।