कानून को हाथ में लेना भारी पड़ा कानून के रखवालों को, एक लाइन अटैच, दूसरा सस्पेंड

ग्वालियर/दतिया, डेस्क रिपोर्ट। पुलिस का काम लोगों में सुरक्षा का भाव जगाना और कानून (Law)तोड़ने वालों को सख्त सजा दिलवाना है लेकिन यदि कानून (Law) की रक्षा करने वाले ही कानून (Law) का मखौल उड़ाने लग जाएं तो इसे विडंबना ही कहेंगे। सोमवार को ऐसी ही एक घटना दिनभर चर्चा में रही जिसमें दो टीआई (TI) स्तर के अधिकारियों ने कानून (Law) की परवाह किये बिना दबंगई दिखाई। लेकिन उन्हें ये दबंगई भारी पड़ गई, दोनों के ही खिलाफ दोनों जिलों के पुलिस अधिक्षकों (SP) ने एक्शन लिया है। एक को लाइन अटैच किया तो दूसरे को सस्पेंड कर लाइन अटैच किया गया है।

दरअसल घटना 15–16 जनवरी की रात की है जब दतिया कोतवाली के टीआई रत्नेश यादव (TI Ratnesh Yadav)ग्वालियर आये थे। किसी बदमाश ने कंपू थाना क्षेत्र में उनका मोबाइल लूट लिया। टीआई ने कंपू थाने में शिकायत की। लेकिन लूट का मामला दर्ज नहीं कराया। मामला महकमे के अधिकारी का था तो टीआई कंपू अनीता मिश्रा (TI Anita Mishra) ने तत्परता दिखाते हुए दबिश देकर आरोपी सोम भार्गव को पकड़ लिया और थाने ले आये। यहाँ कंपू थाना टीआई अनीता मिश्रा (TI Anita Mishra) ने आरोपी को लॉकअप में ना डालकर टीआई कोतवाली रत्नेश यादव (TI Ratnesh Yadav) को सौंप दिया और रोजनामचे में सुपुर्दगी दर्ज कर ली। टीआई कोतवाली दतिया रत्नेश यादव (TI Ratnesh Yadav)आरोपी सोम भार्गव को अपने साथ गाड़ी से लेकर दतिया (Datia) आ गए और दतिया कोतवाली (Datia Kotwali)में उसके खिलाफ आर्मस् एक्ट का मामला दर्ज कर लिया। दतिया में आरोपी को ले जाकर मामला दर्ज कर बंद करने की जानकारी जब सोम भार्गव के परिजनों को मिली तो उन्होंने एसपी अमित सांघी (SP Amit Sanghi) से शिकायत की।

कंपू टीआई अनीता मिश्रा लाइन अटैच

पूरे मामले को ग्वालियर एसपी अमित सांघी (SP Amit Sanghi) मे गंभीरता से लिया और टीआई कंपू अनीता मिश्रा (TI Anita Mishra) को प्राथमिक तौर पर दोषी मानते हुए लाइन अटैच कर दिया। एसपी (SP) ने जारी आदेश में कहा कि कंपू टीआई अनीता मिश्रा (TI Anita Mishra)ने पूरे मामले को गंभीरता से नहीं लिया और ना ही कानून के अनुरूप कार्रवाई की। एसपी (SP) ने पूरे मामले की जांच सीएसपी (CSP) इंदरगंज को सौंपकर 7 दिन में जांच पूरी करने के निर्देश दिये हैं।

ग्वालियर एसपी की शिकायत पर एसपी दतिया ने टीआई को किया निलंबित

उधर टीआई कंपू अनीता मिश्रा (TI Anita Mishra)को लाइन अटैच करने के बाद पुलिस अधीक्षक अमित सांघी (SP Amit Sanghi)ने दतिया एसपी अमन सिंह राठौड़ (SP Aman Singh Rathod)को विभागीय पत्र लिखकर टीआई कोतवाली दतिया रत्नेश यादव (TI Ratnesh Yadav) की शिकायत की। पत्र को पढ़ने के बाद एसपी दतिया अमन सिंह राठौड़ (SP Aman Singh Rathod) ने टीआई कोतवाली रत्नेश यादव (TI Ratnesh Yadav) को बिना अनुमति मुख्यालय छोड़ने और ग्वालियर में लूट की घटना करने वाले आरोपी सोम भार्गव को अवैधानिक तरीके से दतिया लेकर कोतवाली में आर्मस् एक्ट में मामला दर्ज करने को गंभीरता से लिया और रत्नेश यादव को निलंबित कर दिया। एसपी ने अपने आदेश में लिखा कि टीआई रत्नेश यादव ने पदीय दायित्वों का दुरुपयोग कर गंभीर कदाचरण का प्रदर्शन किया है। एसपी अमन सिंह राठौड़ मे मामले की जांच एडिशनल एसपी को सौंपकर सात दिन में पूरी करने के निर्देश दिये हैं।

MP Breaking News

MP Breaking News

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here