पुलिस के लिए सिरदर्द बने मल्लाह गैंग का सरगना, दो साथियों सहित गिरफ्तार

पहले तो यह दिन में खाली घरों की अपने साथियों के साथ मिलकर रैकी किया करता था और फिर रात होते ही अपने साथियों के साथ खाली घरों पर धावा बोल वहाँ रखा माल उड़ा ले जाता था।

जबलपुर, संदीप कुमार।  जबलपुर (jabalpur) सहित भोपाल-रायसेन पुलिस के लिए सिरदर्द बन चुके मल्लाह गैंग का आखिरकार  जबलपुर पुलिस (jabalpur police ) ने सूपड़ा साफ कर दिया। कोतवाली और क्राइम ब्रांच पुलिस ने मल्लाह गैंग (mallah gang) के सरगना प्रेमनाथ मल्लाह सहित उसके दो साथियों को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इनके पास से लाखों रुपये की नगदी, जेवरात और पिस्टल भी बरामद की है। मल्लाह गैंग के 9 सदस्यों को पहले ही पुलिस ने गिरफ्तार कर चुकी है।

मल्लाह गैंग के सदस्य इतने शातिर थे कि पलक झपकते ही घरों में रखा सामान गायब कर देते थे। आरोपी न सिर्फ जबलपुर बल्कि भोपाल और रायसेन में भी कई चोरी की वारदात को अंजाम दे चुके थे। जबलपुर पुलिस लगातार इनकी तलाश में जुटी हुई थी। आखिरकार आज इस गैंग के सभी सदस्यों को पुलिस ने गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है की जिसके बाद अब मल्लाह गैंग का अंत हो चुका है।

पुलिस के लिए सिरदर्द बने मल्लाह गैंग का सरगना, दो साथियों सहित गिरफ्तार

मल्लाह गैंग का सरदार प्रेमनाथ बहुत ही शातिर चोर था।  पहले तो यह दिन में खाली घरों की अपने साथियों के साथ मिलकर रैकी किया करता था और फिर रात होते ही अपने साथियों के साथ खाली घरों पर धावा बोल वहाँ रखा माल उड़ा ले जाता था। प्रेमनाथ चोरी किए हुए माल को बाहर तो बेचता ही था इसके अलावा अपनी दो पत्नियों को भी चोरी का माल दे देता था। कोतवाली और क्राइम ब्रांच पुलिस ने पहले ही प्रेमानाथ की दो पत्नियों सहित 9 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

ये भी पढ़ें – परिवहन मंत्री ने किया “विजन जीरो मध्यप्रदेश” का वर्चुअल शुभारम्भ, कही ये बड़ी बात

दरअसल आज मुखबिर से क्राइम ब्रांच asp गोपाल खांडेल को सूचना मिली कि मल्लाह गैंग का सरगना प्रेमानाथ अपने साथी दुर्गेश और संजय के साथ तुलसी नगर के पास घूम रहा है जिसके बाद पुलिस ने घेराबंदी की और तीनों को गिरफ्तार कर उनके पास से 9 लाख रुपये के जेवर, 4 लाख रुपये नगद और पिस्टल बरामद की।

ये भी पढ़ें – Jabalpur News : पहले पुलिस पर भड़के विधायक विनय सक्सेना, फिर इस वजह से खुद कटवाया अपने समर्थक का चालान

कोतवाली थाना के गोपाल बाग में 20 मई को जब गल्ला व्यापारी के यहाँ काम करने वाला अमित राजपूत दो लाख 20 हजार रुपये लेकर उसे अपने मालिक के घर देने जा रहा था तभी प्रेमनाथ मल्लाह अपने साथी दुर्गेश और संजय के साथ उसके पास पहुँचा और कट्टे से फायर कर दिया। गोली अमित राजपूत के बैग में लगी जिसके बाद तीनों ने अमित से रुपये से भरा बैंग छीना और भाग गए। इस कांड का भी आज जबलपुर पुलिस ने खुलासा कर दिया है।

ये भी पढ़ें – नगरीय निकाय चुनाव: मध्यप्रदेश में कब होंगे स्थानीय चुनाव, 25 अगस्त को होगा फैसला!