Road Accident: पुलिया से टकराकर बेकाबू हुई बोलेरो, दो हिस्सों में बंटी, MP के 3 पुलिसकर्मियों की मौत

Mathura-yamuna expressway Accident : वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस द्वारा मृतकों के परिजनों को सूचना दे दी गई है।

road accident

मथुरा, डेस्क रिपोर्ट। देशभर में सड़क हादसे (Road Accident) की वारदातों में बढ़ोतरी देखी जा रही है। दरअसल एक ऐसा ही हादसा मथुरा यमुना एक्सप्रेस वे (Mathura-yamuna expressway) पर हुआ है। शुक्रवार को हुए दर्दनाक हादसे में मध्यप्रदेश (MP) के 4 पुलिसकर्मी सहित 5 लोगों की मौत हो गई। यह हादसा इतना भीषण था कि पुलिया से टकराकर बेकाबू हुई बोलेरो दो हिस्सों में बंट गई। सुबह करीब पांच बजे हुए सड़क हादसे के कारण एक्सप्रेस-वे की लाइन को बंद कर दिया गया था। हादसा आगरा से नोएडा के रास्ते में हुआ है।

जानकारी के मुताबिक सूचना मिलने पर सुरीर थाना पुलिस मौके पर पहुंची और शव को कब्जे में लेकर घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया है। वहीं शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस द्वारा मृतकों के परिजनों को सूचना दे दी गई है।

उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में यमुना एक्सप्रेसवे पर दर्दनाक हादसा हो गया। शुक्रवार की सुबह हुए इस हादसे में तीन पुलिसकर्मियों सहित 4 लोगों की दर्दनाक मौत हो गई। यह सभी टीकमगढ़ जिले के बुडेरा थाना से आरोपी को गिरफ्तार करने हरियाणा जा रहे थे। इस दर्दनाक हादसे में 3 अन्य घायल हो गए। हादसा सुबह 5 बजे हुआ। गाड़ी में सवार लोग टीकमगढ़ से नोएडा की तरफ जा रहे थे।

तेज रफ्तार बोलेरो गाड़ी के बेकाबू होकर पुलिया से टकराने से यह हादसा हुआ। यमुना एक्सप्रेसवे के माइल स्टोन 80 पर यह हादसा हुआ, जिसमें गाड़ी टूटकर दो हिस्सों में बंट गई। गाड़ी में मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले के बुडेरा थाने की पुलिस टीम सवार थी। पुलिस टीम, अगवा युवती को बरामद करने हरियाणा के बहादुरगढ़ जा रही थी।

Read More: Bhopal Gas Tragedy : 37 साल बाद भी ताजा है भीषण औद्योगिक आपदा की याद, आज भी सुनकर काँप जाती है रूह

इसमें सवार प्रधान आरक्षक भवानी प्रसाद, महिला प्रधान आरक्षक हीरा देवी, चालक जगदीश, कमलेन्द्र यादव, पुलिस मित्र रवि कुमार की मौत हो गई, जबकि रतिराम, धर्मेंद्र कुमार और प्रीति घायल हो गए। इस घटना के बाद पुलिस से पुलिस महकमा में शोक की लहर है।