सीबीआई का शिकंजा-50 हजार की रिश्वत लेते हुए FCI का मैनेजर रंगेहाथों गिरफ्तार

cbi-team-caught-fci-depot-manager-with-rs-50000-bribe-in-mp

टीकमगढ़/निवाड़ी।

मध्यप्रदेश के निवाड़ी जिले में सीबीआई ने बड़ी कार्रवाई की है। टीम ने यहां भारतीय खाद्य निगम के एक मैनेजर को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि मैनेजर बीना की आरवी एग्रो कंपनी से सप्लाई आर्डर के नाम पर 50  हजार की रिश्वत मांग रहा था।यह कार्रवाई जबलपुर लोकायुक्त ने की है। कार्रवाई के बाद से ही निगम में हड़कंप मचा हुआ है।आचार संहिता लगने के बाद प्रदेश में यह सीबीआई की पहली कार्रवाई है।

जानकारी के अनुसार, भारतीय खाद निगम निवाड़ी के डिपो मैनेजर विनोद कुमार सिंह ने आरबी एग्रो बीना फर्म के मुनीम कृष्ण लाल गुर्जर से 2500 टन गेहूं सप्लाई आर्डर के एवज में 90,000 रुपए की रिश्वत मांगी थी। जिसमें उन्होंने कुछ गेहूं सप्लाई करने की परमीशन दे दी थी। करीब 1700 टन गेहूं सप्लाई करने के लिए लगातार रिश्वत की मांग की जा रही थी जिस पर 50,000 रुपए में बात तय हुई थी।बाकी का पैसा मंगलवार को देना था। गुर्जर ने इसकी शिकायत जबलपुर सीबीआई से की। सीबीआई की टीम ने मंगलवार को योजना बनाकर  निगम में दबिश दी। जैसे ही मैनेजर ने गुर्जर से 50  हजार रुपए लिए वैसे ही टीम ने उसे रंगेहाथों धर दबोचा। सीबीआइ ने डिपो मैनेजर सहित उसके असिस्टेंट को भी सह आरोपी बनाया है। दोनों के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम का प्रकरण दर्ज करते हुए मौके पर ही जमानत दे दी। कार्रवाई देर रात तक चलती रही। सीबीआई की कार्रवाई के बाद से ही पूरे निगम में हड़कंप की स्थिति है।