culprits-create-problem-in-tikamgarh-with-media-person

भोपाल/टीकमगढ़। 

मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले में एक मीडिया दफ्तर में मीडियाकर्मचारियों के साथ जमकर मार पीट का मामला सामने आया है। एक अखबार के कार्यालय में असामाजिक तत्वों ने घुसकर कर्मचारियों के साथ मारपीट कर वहां रखा सब सामान तोड़ दिया। जब इस घटना की रिपोर्ट दर्ज कराने पत्रकार और मीडियाकर्मी थाने पहुंचे तो कोतवाली पुलिस ने घंटो इंतेजार करवाने के बाद रिपोर्ट भी दर्ज नहीं की। पुलिस मामले को दबाने का प्रयास कर रही है। 

जानकारी के अनुसार मंगलावरो को जिले के एक अखबार कार्यालय में कुछ असामाजिक तत्वों ने घुसकर जमकर तोड़फोड़ कर वहां रखा सब सामान तोड़ दिया। यही नहीं दफ्तर में मौजूद मीडियाकर्मचारियों के साथ भी जमकर मारपीट की गई। इसमें पत्रकारों को हल्की चोटों भी आई हैं। जब इस मामले की शिकायत करने पत्रकार कोतवाली थाने पहुंचे तो थाना प्रभारी नवल आर्य ने उन्हें तीन घंटे थाने में बैठाने के बाद भी उनकी शिकायत नहीं सुनी। जब इस मामले में एसपी कुमार प्रतीक से बात की गई तो उन्होंने कहा कि शिकायत करने पहुंचे पत्रकारों ने फिलहाल कोई लिखित शिकायत नहीं दी है। इसलिए किसी पर मामला दर्ज नहीं किया गया है। अगर वह लिखित में हमले और तोड़फोड़ की शकायत करेंगे तो मामले को संज्ञान में लिया जाएगा। मीडियाकर्मियोंं का आरोप है कि कोतवाली थाना प्रभारी नवल आर्य काफी अड़िया मिजाज के हैं और शिकायत दर्ज करने में लोगों को परेशान करते हैं।