महिलाओं के खिलाफ होने वाले अपराधों पर चर्चा, सुरक्षित रहने के टिप्स दिए

ओरछा, मयंक दुबे। पर्यटन विकास निगम के होटल में महिलाओं के विरूद्ध होने वाले  अपराधों की रोकथाम के लिए दो दिवसीय जागरूकता अभियान के तहत कार्यशाला आयोजित की गई। यहां महिलाओं ने बढ़चढ़ हिस्सा लिया। इस अवसर पर पर्यटन विकास निगम की ओर से पर्यटन स्थलों पर महिलाओं की सुरक्षा को लेकर पर्यटन प्रबंधक संजय मल्होत्रा ने कई जरूरी टिप्स दिए। उन्होने कहा कि महिला सशक्तिकरण पर बात करना तो सूरज को दीया दिखाने के बराबर है, क्योंकि महिला खुद में इतनी सशक्त है जो दुर्गा काली बनकर असुरों का नाश कर सकती है। लेकिन जागरूक बनकर वो अपने साथ होने वाले अपराधों में कमी ला सकती हैं।

उन्होने कहा कि जरूरत है कि समाज का हर व्यक्ति महिलाओं का सम्मान करें तथा महिला स्वयं अपने अंदर ताकत पैदा करें और अपनी इच्छाशक्ति को बढ़ाएं। अगर महिला  जागरूक रहेंगी तो उनके साथ दुर्व्यवहार की घटनाओं में बहुत कमी आ सकती है। लेकिन यदि किसी के साख कोई दुर्घटना घटती भी है तो पुलिस प्रशासन तथा आस पास के लोगों की मदद लें। साथ ही उन्होने सभी से अपील की कि इतने जागरूक बनें कि किसी महिला के साथ किसी प्रकार की अभद्रता होती है या घटना घटी है तो हम उसकी मदद कर सकें, क्योंकि जब समाज आगे आएगा तभी इस समस्या का निपटारा हो सकेगा। कई बार युवतियां और महिलाएं अकेले ही घूमनी जाती हैं। पर्यटन भाषा मे इन्हे सिंगल ट्रेवलर कहा जाता हैं।अगर आप अकेले या ग्रुप में घूमने जा रही हैं तो आपको हमेशा चौकन्ना रहना होगा।  पर्यटन विकास निगम की ओर से पर्यटन स्थलों पर महिलाओं की सुरक्षा को लेकर महिला सशक्तिकरण की कार्यशाला पर स्थानीय पर्यटन प्रबन्धक संजय मल्होत्रा ने कही।

बुधवार को स्थानीय पर्यटन विकास निगम के होटल में दो दिवसीय महिलाओ के विरुद अपराधों की रोकथाम हेतु जागरूकता अभियान के तहत कार्यशाला आयोजित की गई।जिसमे नगर की महिलाओं व युवतियों ने बढ़चढ़ हिस्सा लिया।