ओरछा में मॉर्डन आर्ट पेंटिंग की प्रदर्शनी का आयोजन, देश-विदेश के पर्यटक हुए शामिल

ओरछा। मयंक दुबे। 

पर्यटन नगरी ओरछा में पेंटिंग के अंतराष्ट्रीय आर्ट क्यूरेटर सिद्धार्थ के संयोजन में देश के ख्याति प्राप्त पेंटिंग आर्टिस्ट बालेश जिंदल एवं आर्ट कन्सलटेंट माधवी अडवाणी के द्वारा बनाई गई मॉर्डन आर्ट पेंटिंग की प्रदर्शनी लगाई गई । जिसको ओरछा आने वाले देशी व विदेशी पर्यटकों द्वारा देखने के बाद खूब सराहा जा रहा है।प्रदर्शनी में कलाकारों द्वारा राधा कृष्ण की कई मुद्राओ में शानदार पेंटिंग बनाई गई।जो प्रदर्शनी के आकर्षण का मुख्य केंद रही।

प्रदर्शनी के दौरान अंतराष्ट्रीय चित्रकलाकार बालेश जिंदल ने अपनी कला के बारे में बताया कि मैं एक मध्य केरियर कलाकार हूँ।चिकित्सक बनने के बाद भी मेरी कला का जुनून जारी रहा।पिछले 25 बर्षो से पेंटिंग कर रही हूं।अपनी कलाकृति के साथ मैं कविता भी लिखती हूँ।मेरी कला विचारों को चित्रित करने वाले चेहरों के बारे में अधिक है।मै पेंटिंग को किचिन नाइफ की मदद से कलर का प्रयोग करके तैयार करती हूं। पेंटिंग में ब्रुश का प्रयोग नही करती।कलर की सारी मिक्सिंग केनवास पर ही होती है।एक इंच पर सौ स्टोक करने पड़ते हैं।यह तकनीक काफी सराही गई है।मैं इस तरह के चित्रकला को लेकर लन्दन,साउथ अफ्रीका सहित कई देशों शो कर चुकी हूं।विश्व  के सबसे बड़े समारोह में मैंने भाग लिया वँहा भी मेरी पेंटिंग को सराहा गया। मेने पेंटिंग करने के लिये ओरछा को इसलिये चुना क्योकि यह नगर ऐतिहासिक महत्त्व के साथ प्राकृतिक सौंदर्य से परिपूर्ण हैं। यंहा आने वाले पर्यटकों ने राधा कृष्ण की पेंटिंग को सराहा हैं।

ओरछा में लगी चित्रकला प्रदर्शनी को सराहा रहे पर्यटक व स्थानीय उद्योगपति।  होटल अमर महल के डायरेक्टर नितेन्द्र सिंह की माने तो पुरातत्व साहित्य व नैसर्गिक सौंदर्य के साथ  ओरछा में लगी ख्यातिनाम कलाकरो की चित्रकला प्रदर्शनी को देख देशी व विदेशी पर्यटक आत्मबिभोर हो रहे है,,,किचिन नाइफ से बनी इन चित्रकलाओं में भाव है चाहे भगवान की हो या इंसान की पर्यटक इने देख बरबस ही खिंचा चला आता है ऐसे में इस तरह की ख्यातिनाम कलाकरो की चित्रकला प्रदर्शनी ओरछा में कला के क्षेत्र में पर्यटन को बढ़ावा देगी ,,,जो ओरछा के लोगो को रोजगार के साथ साथ इसकी ख्याति में भी चार चांद लगाएगा ।।।।