कोरोना कर्फ्यू : निवाड़ी पुलिस ने लोगों के फेफड़ों का लिया रियल्टी टेस्ट, बेवजह घूमने वालों से फुलवाए गुब्बारे

कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) का उल्लंघन करने वालों को निवाड़ी पुलिस ने अनोखी सजा दी। पुलिस ने बेवजह घूमने वालों से गुब्बारे फुलवाकर उनके फेफड़ों के रियल्टी टेस्ट लिया।

निवाड़ी, मयंक दुबे। जिले में पुलिस प्रशासन द्वारा सख्ती से कोरोना कर्फ्यू (Corona Curfew) का पालन कराया जा रहा है। ऐसे में जिले की सीमाओं पर लोगों को रोकने के लिए चेक पोस्ट (Niwari Check Post) बनाए गए है। सभी चेक पोस्ट पर आने वाले लोगो की कोरोना जांच हो यह भी संभव नहीं है। ऐसे में निवाड़ी पुलिस ने लोगों के फेफड़ों का रियल्टी टेस्ट करने की अनोखी तरकीब निकाली है। जहां पृथ्वीपुर के रानीगंज चेकपोस्ट पर आए लोगों को पुलिस के द्वारा सजा के तौर पर एक मिनिट में 5 गुब्बारे फुलवाये गए। जिसके बाद उन्हें वापसी का रास्ता दिखा दिया गया।

यह भी पढ़ें:-दतिया में अधिकारियों एवं काजी की जनता से अपील, कहा गाइडलाइन का पालन कर ईद घर में मनायें

निवाड़ी पुलिस का कहना है कि गुब्बारे फुलाने से फेफड़ों को मजबूती मिलती है। कोरोना कर्फ्यू में इस सजा से लोगों को सीख और समाधान दोनों साथ में मिल रहे हैं। पुलिस द्वारा एक मिनट में 5 गुब्बारे फुलाने वालों को सराहा गया और सभी से गुब्बारों में गो कोरोना, भाग कोरोना लिखवाकर बाहर न निकलने का संकल्प दिलाया गया। उल्लंघन करने वाले जब अपने गंतव्य स्थान की ओर जाने लगे तो पुलिस ने गुब्बारों का गुच्छा गिफ्ट में देते हुए वापस उसी रास्ते में भेजा जिस रास्ते से आये थे। पुलिस ने कोरोना कर्फ्यू का उल्लंघन करने वालों से कहा कि गांव में जाकर लोगों को बताए कि बाहर निकलना मना है और पुलिस सख्त है।

कोरोना कर्फ्यू : निवाड़ी पुलिस ने लोगों के फेफड़ों का लिया रियल्टी टेस्ट, बेवजह घूमने वालों से फुलवाए गुब्बारे

एसडीओपी पृथ्वीपुर संतोष पटेल ने बताया कि यह वह लोग जो कोरोना कर्फ्यू में बेवजह मिलने जुलने या शादी और तेरहवीं के निमंत्रण पर जाने वाले थे। इस सभी को रोककर कोरोना की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाली प्रतिबंधात्मक सजा इन्हें दी जा रही है। वहीं बाइक या कार से आने-जाने वालों से पुलिस ने स्टेमिना का परीक्षण किया और एक मिनट में 5 गुब्बारे फुलवाये। कुछ तो गुब्बारों की संख्या और समय सुनकर भाग गए और कुछ ने शर्त स्वीकार की।