टीकमगढ़, आमिर खान। शासन के निर्देश के बावजूद शासकीय भूमि पर अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। आज इसी कड़ी में एसडीएम सौरभ मिश्रा भारी पुलिस बल के साथ नवीन बस स्टैंड के आगे स्थित गुम्मा मंडी पहुंचे, जहां उन्होंने इस मंडी को अवैध बताते हुए वहां खड़े 16 ट्रैक्टर और ट्राली पर चालानी कार्रवाई कराई। इस कार्यवाही के बाद से इन वाहनों पर मजदूरी करने वाले सभी मजदूरों की एक दिन मजदूरी का नुकसान हुआ और कार्रवाई का गुम्मा व्यापारियों ने विरोध किया।

व्यापारियों के अनुसार आज से चार वर्ष पूर्व जब नगर पालिका अध्यक्ष राकेश गिरी थे, तब भी इन सबको झिरकी बगिया से हटाकर नवीन बस स्टैंड के आगे इस भूमि पर काबिज किया गया था। इस भूमि की पुराई भी नगर पालिका ने कराकर दी थी। इसके बाद से यहां मंडी स्थापित है, लेकिन आज अचानक की गई कार्रवाई के बाद से लोगों के मन में तमाम सवाल खड़े हुए हैं। इसके साथ ही यहां यह भी विचारणीय है कि अगर जिला प्रशासन भूमि से इन वाहनों को हटाकर कार्रवाई कर रहा है, तो क्या इन मजदूरों की मजदूरी के लिए कोई नया स्थान प्रशासन देगा, जिससे इनका रोजगार न छिने। इस कार्रवाई से नाराज़ लोग अब कलेक्टर से मिलकर सारी जानकारी उन्हें देंगे और फिर कलेक्टर के बताए अनुसार अपना काम शुरू करेंगे। फिलहाल आज से इन सभी ने अपने कारोबार को बंद कर दिया है।

इनका कहना है
नो पार्किंग के स्थान पर वाहन खड़े थे, इसलिए चालानी कार्यवाही की गई।
सौरभ मिश्रा, एसडीएम

प्रशासन द्वारा दिए स्थान पर वाहन खड़े थे, लेकिन प्रशासन ने जबरन कार्रवाई की। आज दिन भर के रोजगार पर असर पड़ा है। हम सब बैठक आयोजित कर कलेक्टर से मिलेंगे और उन्हें अपनी समस्या बताएंगे। हम प्रशासन के साथ है पर हमें नजायज न दबाया जाए।
शाहिद खान, गुम्मा व्यापारी