शिक्षिका ने हॉस्टल छात्राओं से की जमकर मारपीट, लगवाई उठक-बैठक, हालत गंभीर

टीकमगढ ।

जिले में एक शिक्षका की हैवानियत सामने आई है। इस शिक्षका ने हास्टल की छात्राओं से साथ जमकर जमकर मारपीट की और 200 उठक बैठक भी लगबाएं जिसके बाद छात्राओं की हालत खराव हो गई और इन्हे जिला अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती करना पडा गभीर बात यह है इस पूरे मामले में हास्टल की बार्डन ही गभीर लापरवाई है यह अधिकतर समय हांस्टल से गायव रहती है। अव इस पूरे मामले की जांच करने की बत कही जा रही है।

यह मामला गोर के सरकारी कस्तूरवा छात्रावास का जहा एक शिक्षका जो इन छात्राओं को पढाने के लिए आती है इसकी हैवानियत इतनी बड गई की उसने इस छात्राओं से साथ छडी से जमकर मारपीट की और पूरी छात्राओं से 200 उठक बैठक लगाबाने के लिए कहा। शिक्षका की इस प्रतारणा से छात्राओं की हालत खराव हो गई और उन्हे अस्पतला के लिए रेफर करना पडा। जहा उनका उपचार किया गया बताया जा रहा है कि मोना सोनी नाम की शिक्षका हास्टल की छात्राओं को पडाने के लिए आती थी और इस छात्राओं को लेसन याद करने के लिए दिया था जो यह ठीक से याद नही कर पाई जब इन्होने बच्चो से पूता और बह नही बतलापाएं तो उन्होने हैवानियत की सारी हदे पार कर दी और छडी से पिटना शुरु कर दिया और जब इतने से इसका मन नही भरा तो उन्होने 200 उठक बैठक लगाने के लिए कह दिया जिस्से इनकी हालत खराव हो गई और आखिर कार उन्हे जिला अस्पताल में भर्ती करना पडा वही विभाग के अधिकारी अब इस पूरे मामले की जांच कर कार्यवाही करने की बात कह रहे है। बार्डन का कहना है कि यह अस्थाई शिक्षका है शिकायत आने पर आज तुरंत हटा दिया।