मंत्रियों के आदेश दरकिनार करना कलेक्टर को पड़ा महंगा, पहुंचे भोपाल

टीकमगढ़। आमिर खान।

अक्सर देखा जाता है कि कलेक्टर हो या उससे नीचे का कोई कर्मचारी अगर मंत्रियों के आदेश दरकिनार करता है, तो उसे इसका खामियाजा भुगतना पड़ता है। इसी का खामियाजा टीकमगढ़ कलेक्टर सौरभ सुमन को भुगतना पड़ा। अक्सर कई मामलों में देखा जा रहा था कि कलेक्टर सौरभ कुमार मंत्रियों के लिखित आदेश पर भी गंभीरता नहीं दिखा रहे थे, जिसकी शिकायतें टीकमगढ़ के लोगों के द्वारा की जा रही थी। हाल ही में उन्होंने मंत्री पीसी शर्मा के पत्र को दरकिनार कर ई-गवर्नेंस अधिकारी पर अपनी मेहरबानी दिखाई थी, जिसके बाद केबिनेट मंत्री पीसी शर्मा ने कलेक्टर को दूसरा पत्र लिख टीकमगढ़ ई-गवर्नेंस अधिकारी को हटाने के आदेश दिए थे। इसके साथ ही टीकमगढ़ में स्थित राजशाही नजरबाग बिल्डिंग को भी गिराने की तैयारी उन्होंने की थी, जिसकी शिकायत मुख्यमंत्री तक पहुंची थी। माना यही जा रहा है कि इसी के चलते टीकमगढ़ कलेक्टर को भोपाल बुला लिया गया है और अब टीकमगढ़ कलेक्टर की जिम्मेदारी श्रीमती हर्षिका सिंह को दी गई है।