टीआई का बेतूका बयान- ऐसी तो डेढ़ सौ चोरियां होती क्या सबका जबाव दूंगा

tikamgarh-thana-prabhari-statement-on-The-thieves

टीकमगढ़।आमिर खान।

शहर में इन दिनों चोरों के हौसले बुलंद हैं। चोर पुलिस को चकमा देकर चोरी की घटनाओं को अंजाम देने में लगे हैं। कोतवाली थाना के अंतर्गत आज दूसरे दिन दूसरी चोरी की घटना सामने आई है। 17 तारीख कि दरम्यानी रात में चोरों ने शुभाषपुरम कालोनी में एक मकान को अपना निशान बनाया था, और फिर 18 की दरम्यानी रात में चोरों ने सरांय मुहल्ला स्थित बंशी सिंधी के मकान को निशाना बनाया है। इन दोनों घटनाओं के बाद से शहर के लोग तरह-तरह के क्यास लगा रहे हैं। फिलहाल जिस पुलिस की इन घटनाओं पर अंकुश लगाने की जिम्मेदारी है, उनके आला कमान अपने बेतुके बयान दे रहे हैं।

कोतवाली थाना प्रभारी धर्मेंद्र यादव से जब मीडिया के लोगों ने जबाव मांगा, तो थाना प्रभारी महोदय ने जबाव देने से इंकार कर दिया और बोले चोरी की घटनाओं पर मैं कुछ नहीं बोलूंगा, ऐसे तो शहर के डेढ़ सौ चोरी हो जाएं, तो क्या हर एक मामले का जबाव दूंगा। इस बयान के बाद आप खुद समझ सकते हैं कि जिम्मेदार किस तरह अपने कदम ताल पीछे कर रहे हैं। अरे साहब आपकी यह जिम्मेदारी है कि अगर डेढ़ सौ चोरियां भी होंगी तो जबाव देना पड़ेगा। थाना प्रभारी की इस बात के बाद कई सवाल खड़े हो रहे हैं। फिलहाल पुलिस को दो दिन में हुई दो चोरी की घटनाओं के सीसीटीवी फुटेज मीले हैं, लेकिन अब सवाल ये है कि क्या पुलिस चोरों को पकड़ने में कामयाब होगी। 

बंशी सिंधी के घर से ये सामान हुआ चोरी

सरांय मोहल्ला में रहने वाले बंशी सिंधी ने बताया कि जब 18 जी दरम्यानी रात में वह अपने घर के अंदर सो रहे थे, उसी रात को चोरों ने उनके घर पर धावा बोला और उसके यंहा नगदी, जेवरात, कपड़े और लैपटॉप चोरी कर ले गए। बंशी सिंधी कटरा बाजार में चाय की दुकान से अपने परिवार का भरण पोषण करता है। आज चोरी की घटना के बाद से पूरा परिवार निराश है। थाना प्रभारी महोदय मानवीय तौर पर ही आप इस घटना को प्रमुखता से ले लें। 

इनका कहना

कांग्रेस की सरकार बनने के बाद पूरे प्रदेश सहित शहर में भी अपराध बढ़ा है, जिस पर अंकुश नहीं लग रहा। चोरी की घटनाएं दुःखद हैं, हम इस मामले को लेकर ऊपर तक बात करेंगे।

राकेश गिरी, विधायक, टीकमगढ़

चोरी की घटनाएं निंदनीय हैं, फिलहाल भरोसा है कि पुलिस इसे जल्द खोलेगी। थाना प्रभारी के जबाव की भी निंदा करता हूँ। उन्हें टीकमगढ़ के लोगों के लिए कोतवाल बनाया गया है। इसलिए उनकी जिम्मेदारी है कि जिम्मेदाराना बयान ही मीडिया के सामने रखें। 

गौरव शर्मा, कार्यकारी जिलाध्यक्ष , टीकमगढ़