एमपी में यहां ग्रामीणों ने किया मतदान का बहिष्कार, मनाने पहुंचे अधिकारी

Villagers-here-boycott-voting-in-MP

टीकमगढ़।आमिर खान।

सुबह से टीकमगढ़ लोकसभा सीट का मतदान शुरू हो गया है, लेकिन यंहा एक और बड़ी खबर सामने आई है जंहा एक गांव के लोगों ने मतदान करने से इंकार कर दिया है और मतदान का विरोध कर रहे हैं। ग्राम पंचायत बड़ौरा घाट के सभी ग्रामीणों ने एक साथ मिलकर मतदान का विरोध किया है। लोगों का आरोप है कि इस गांव में जो बुनियादी समस्याएं हैं उनसे निजात नहीं मिल रही है। जैसे बिजली, पानी इत्यादि साथ ही लोगों का आरोप है कि इस गांव की जो खरीदी होती है, वह भी अब टीकमगढ़ में होने लगी है।  इसी कारण ग्रामीण मतदान का विरोध कर रहे हैं। वही  सूचना मिलते ही मौके पर आला अधिकारी पहुंचे और उन्हें मनाने की कोशिश कर रहे है। इस दौरान उप निर्वाचन अधिकारी पीएल पटेल को ग्रामीणों ने  ज्ञापन भी सौंपा।

गौरतलब है कि बुंदेलखंड की प्रमुख लोकसभा सीट टीकमगढ़ में बीजेपी प्रत्याशी केंद्रीय मंत्री डॉ वीरेंद्र कुमार खटीक हैट्रिक की तलाश में हैं। वह तीसरी बार चुनावी मैदान में हैं। उनके खिलाफ कांग्रेस ने इस सीट पर महिलाा उम्मीदवार किरण अहिरवार को उतारा है। भाजपा का गढ़ मानी जाने वाली इस सीट पर भारतीय जनता पार्टी जहां प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पिछले 5 वर्ष के कार्यकाल और राष्ट्रवाद को प्रमुख मुद्दा बनाकर चुनाव मैदान में हैं तो वहीं कांंग्रेस पिछले विधानसभा चुनाव से उत्साहित होकर इस बार यहां अपनी जीत की संभावनाओं की किरण देख रही है। यहां हालांकि मुख्य मुकाबला भाजपा प्रत्याशी डॉ कुमार एवं कांग्रेस उम्मीदवार किरण अहिरवार के बीच ही है, लेकिन भाजपा के बागी व चंदला के पूर्व विधायक आरडी प्रजापति के समाजवादी पार्टी से मैदान में उतरने से यहां कुछ राजनीतिक समीकरण बिगड़ने की आशंका है। डॉ कुमार इसके पहले सागर संसदीय क्षेत्र से भी तीन बार सांसद रह चुके हैं।