घर के पैसे युवक जुआ में हारा, तो रच ली लूट की कहानी

टीकमगढ़।आमिर खान।

अक्सर कहा जाता है कि जुआ और सट्टा दो ऐसे अपराध है, जो बड़े अपराधों की जननी हैं। अगर लोग इससे अपना लेते हैं, तो माना जाता है कि निश्चित वो कोई अपराध करेगा। क्योंकि जुआ केवल पैसों के लिए लोग खेलते हैं और जब वह इस जंजाल में फंस जाते हैं, तो उससे निकलना मुश्किल रहता है। ऐसा ही एक मामला टीकमगढ़ जिले के मोहनगढ़ थाने से सामने आया जहां एक युवक ने अपने खाते में जमा राशि जुआ में हारने के बाद एक नई कहानी रची और खुद के साथ लूट होना बताया। पुलिस घटना को सुन तत्काल जांच शुरू की ओर मामले की तह तक पहुंचकर इसका खुलासा किया। 

मामले का खुसाला पुलिस कप्तान अनुराग सुजानिया ने पुलिस कंट्रोल रूम में करते हुए बताया कि दिनांक 20 दिसम्बर को सोहित चतुर्वेदी ने अपने साथ लूट की घटना की शिकायत मोहनगढ़ पुलिस से की। पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी। जांच के बाद पुलिस ने जब इस घटनाक्रम की परतें खोली, तो माजरा कुछ और ही निकला। पुलिस जब साहिल के बैंक अकाउंट को खंगाला, तो इसके बाद ये पता चला कि साहिल जिस तारीख में पैसे अकाउंट से निकालने की बात कर रहा है, उस दिन बैंक से राशि निकली ही नहीं। फिर क्या था पुलिस को शक हुआ और उसने साहिल से पूछताछ की, तब साहिल ने खुद के द्वारा की गई शिकायत को झूठी शिकायत बताया और मामले का पर्दाफाश हो गया। पुलिस अधीक्षक का कहना है कि अब साहिल के खिलाफ कार्यवाही की जाएगी।