जनजातीय गौरव दिवस : विपक्ष के आरोपों पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र तोमर का पलटवार, कही ये बड़ी बात

केंद्रीय मंत्री नरेंद सिंह तोमर ने कांग्रेस ने हमेशा वोट बैंक को तबज्जो दी है इसलिए उसकी सोच भी ऐसी है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। राजधानी भोपाल में सोमवार 15 नवम्बर को जनजातीय गौरव दिवस (Tribal Pride Day , janjatiy Gaurav Divas) का आयोजन किया जाएगा। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के मुख्य आतिथ्य आयोजित किये जा रहे इस कार्यक्रम को लेकर जहां मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) सहित भाजपा कार्यकर्ताओं में जितना उत्साह है उससे कहीं अधिक आदिवासी समाज में उत्साह है आदिवासी समाज के लोग भोपाल पहुँचने भी लगे हैं लेकिन विपक्ष इसे आदिवासियों के वोट बटोरने की कवायद बता रही है।

भगवान बिरसा मुंडा (Bhagwan Birsa Munda) की जयंती को जनजातीय गौरव दिवस के रूप में मनाने के केंद्र सरकार के फैसले को कांग्रेस आदिवासियों को लुभाने और उनके वोटों को बटोरने की कवायद बात आरही है।  कांग्रेस नेता जनजातीय गौरव दिवस को लेकर भाजपा पर लगातार हमलावर हैं।

ये भी पढ़ें – प्रधानमंत्री का स्वागत करने वालों का RTPCR अनिवार्य, मंत्री-विधायकों की 48 घंटे पहले की नेगेटिव रिपोर्ट के साथ एंट्री

कांग्रेस के आरोपों का केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने जवाब दिया है।  उन्होंने पलटवार करते हुए कह ाकी जो दल इस प्रकार की चर्चा चर्चा कर रहे है वो सिर्फ वोट की राजनीति करते हैं। भारतीय जनता पार्टी वोट की राजनीति नहीं करती।  सारा देश इस बात का साक्षी है कि जनजातीय समाज से ऐसे ऐसे लोग हुए हैं जिन्होंने देश की आजादी में बहुत योगदान दिया है, अपने प्राणों की आहुति भी दी है।

ये भी पढ़ें – बूंदी छानते दिखे रामेश्वर शर्मा, बोले- मामा के मेहमान हैं, कोई दिक्कत नहीं होनी चाहिए

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने आदिवासी समाज के ऐसे हुतात्माओं का हमेशा सम्मान किया हैं उनकी याद को हमेशा बनाये रखने के लिए मूर्तियां स्थापित की हैं, स्मारक बनवाये हैं। उन्होंने कहा कि  गोंडवाना क्षेत्र में रानी दुर्गावती ,रघुनाथ शाह – शंकर शाह, मालवा में टंट्या भील यानि टंट्या मामा हो, झारखण्ड में भगवान बिरसा मुंडा का नाम आता है।

ये भी पढ़ें – आदिवासी रंग में रंगे CM शिवराज, जनजातीय समुदाय के लोगों के साथ झूमकर किया पारंपरिक नृत्य

मध्य प्रदेश सरकार ने आजादी के बरसों बाद ने जबलपुर रघुनाथ शाह – शंकर शाह की प्रतिमा स्थापित की, रानी दुर्गावती की प्रतिमा स्थापित की , टंट्या मामा की प्रतिमा स्थापित की।   अब केंद्र सरकार ने तय किया है कि जनजातीय समाज के आदर्श भगवान बिरसा मुंडा का जन्म दिन जनजातीय गौरव दिवस  हर साल मनाया जायेगा इसलिए मध्य प्रदेश सरकार 15 नवम्बर को ये कार्यक्रम कर रही है।