श्रद्धांजलि और सियासत: सिंधिया ने किया रानी लक्ष्मीबाई को नमन तो भड़की कांग्रेस, छिड़का गंगाजल

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने रविवार को रानी लक्ष्मीबाई की समाधि पर पुष्पांजलि अर्पित की थी।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) के भाजपा (BJP) में जाने के बाद से उनके गृह क्षेत्र ग्वालियर चम्बल संभाग के कांग्रेसी (Congress) ज्यादा भड़के हुए हैं। कभी सिंधिया को महाराज कहकर उनके सामने सिर झुकाने वाले नेता अब उन्हें  खुलेआम गद्दार कहकर सम्बोधित कर रहे हैं। अब कांग्रेस नेताओं ने सिंधिया द्वारा रानी लक्ष्मीबाई (Rani Laxmibai) को नमन किये जाने पर आक्रोश जताते हुए आज मंगलवार को रानी की समाधि पर गंगाजल छिड़ककर उसे शुद्ध किया।

श्रद्धांजलि और सियासत: सिंधिया ने किया रानी लक्ष्मीबाई को नमन तो भड़की कांग्रेस, छिड़का गंगाजल

1857 में रानी लक्ष्मीबाई के साथ गद्दारी करने के दंश झेल रहे सिंधिया राजवंश के मुखिया केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा रविवार द्वारा अचानक रानी लक्ष्मीबाई की समाधि पर पहुंचकर पुष्पांजलि अर्पित की थी।  सिंधिया के रानी को पुष्पांजलि अर्पित करने के बाद कांग्रेस भड़क गई है। विरोध जताते हुए महिला कांग्रेस ने आज मंगलवार को रानी की समाधि पर गंगाजल छिड़क कर उसे शुद्ध किया। इस दौरान कांग्रेस की पुलिस के साथ झूमा झटकी भी हुई।

ये भी पढ़ें – जानिए, किस वजह से राज्य निर्वाचन आयोग को निरस्त करने पड़े MP पंचायत चुनाव

महिला कांग्रेस की जिला अध्यक्ष रुचि राय गुप्ता के नेतृत्व में कांग्रेस ने रानी की समाधि के शुद्धिकरण की घोषणा की थी। घोषणा को देखते हुए रानी की समाधि पर भारी संख्या में पुलिस फोर्स तैनात कर दिया गया। एसडीएम सहित पुलिस के आला अधिकारी समाधि स्थल पर पहुँच गए थे। प्रदर्शन के लिए पहुंची महिला कांग्रेस ने रानी की समाधि पर एक साथ घुसने की कोशिश की तो पुलिस ने उन्हे रोक दिया। इस दौरान पुलिस के साथ महिला कांग्रेस की झूमा झटकी भी हुई। बाद में पुलिस ने दो दो की संख्या में महिलाओं को पुष्पांजलि अर्पित करने दी। बाहर आकर महिला कांग्रेस जिला अध्यक्ष ने समाधि स्थल को गंगाजल से साफ किया।

ये भी पढ़ें – MP Panchayat Election : प्रशिक्षण कार्यक्रम से गायब 6 कर्मचारी निलंबित

महिला कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि ज्योतिरादित्य सिंधिया द्वारा सिर झुका देने से ये साबित नहीं हो जाता कि सिंधिया परिवार की गद्दारी के दाग धुल गए हैं।  रानी लक्ष्मीबाई महिला शक्ति की प्रतीक हैं आज उनकी आत्मा भी रो रही होगी।  इसलिए हमें गंगाजल छिड़का है। कांग्रेस ने कहा कि जिसके पूर्वजों ने रानी लक्ष्मी बाई के साथ गद्दारी की थी उसके वंशज ज्योतिरादित्य सिंधिया के पैर यहाँ पड़े है इसलिए समाधि स्थल अपवित्र हो गया है जिसे हमने शुद्ध किया है।