Umaria News – मुसीबत बनी नल-जल योजना, हजारों गैलन पानी हो रहा बर्बाद 

नगरवासियों के मन में एक ही ख्याल आता है कि जब 15 करोड़ भी खर्च हो गए पूरे नगर की सड़कें भी खोद कर रख दीं गई लोकार्पण भी हो गया और नगरवासियों के घरों तक पानी भी नहीं पहुंचा तो 15 करोड़ का पानी पी कौन गया।

उमरिया, ब्रजेश श्रीवास्तव। जनता को सुविधा देने के लिए सरकार करोड़ों रुपये खर्च करती है जिससे नागरिकों की परेशानी को दूर किया जा सके लेकिन सरकारी  कर्मचारी कैसे सरकार की योजनाओं को पलीता लगाते हैं इसका उदाहरण देखने को मिला है उमरिया (Umaria) में। यहाँ नल जल योजना मुसीबत बन गई है, टूटी पाइप लाइन से हजारों गैलन पानी बर्बाद  हो रहा है, खुदाई के चलते कई बुजुर्ग और बच्चें हो चुके हादसे का शिकार हो रहे हैं।

उमरिया (Umaria) नगर में जब से मुख्यमंत्री नल- जल योजना (Tap Water Scheme) के नाम पर ठेकेदार ने खुदाई शुरू की तब से इस आधी अधूरी योजना का लोकार्पण होने के बाद अभी तक पूरे चार वर्षों में हर दिन नगर की जनता इस पाइप लाइन से परेशान हो रही है। ठेकेदार ने जब से उमरिया (Umaria)नगर में पाइप लाइन बिछाने के लिए गड्ढे खोदे तब से आज तक नगर की जनता यही कहती है अगर नल- जल योजना यह थी और यह विकास का एक रूप था तो नही चाहिए हमें ऐसा विकास जिसने नगर को गड्डों में बदल कर रख दिया हो।

लागत 15 करोड़ लाभ मिला शून्य

चार वर्षों से नगर की सड़कों और गलियों को खोद खोद कर बर्बाद करने के बाद आखिरकार लगभग 15 करोड़ की कर्ज वाली नल- जल योजना (Tap Water Scheme) का लोकार्पण बीते दिनों हो भी गया पर अभी तक नगर की जनता को मिला तो सिर्फ खुदी हुई सड़कों की सौगात नगर की जनता इस पूरी योजना से खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है और नगरवासियों के मन में एक ही ख्याल आता है कि जब 15 करोड़ भी खर्च हो गए पूरे नगर की सड़कें भी खोद कर रख दीं गई लोकार्पण भी हो गया और नगरवासियों के घरों तक पानी भी नहीं पहुंचा तो 15 करोड़ का पानी पी कौन गया।

ये भी पढ़ें – गोडसे भक्त विवाद: दिल्ली जायेंगे हिंदू महासभा नेता, सोनिया गांधी से करेंगे मुलाकात

नपा से लोहरगंज वासी खासे नाराज

नगर पालिका उमरिया (Umaria) की कार्यप्रणाली तो लम्बे अरसे से ही नगरवासियों की तारीफें बटोरती रहती है लेकिन इस नल जल योजना (Tap Water Scheme) के ठेकेदार ने नगरवासियों के सामने नगरपालिका की वो नककटाई की है जो आज तक नहीं हुई।  पूरा नगर नपा और इस ठेकेदार का नाम सुनते ही मानो आग बबूले हो उठते हैं ख़ासकर लोहरगंजवासी जो बार बार नपा के सामने इस ठेकेदार की कारिस्तानियों को सुना और बता चुकें है कि फूटी पाइप लाइन से बह रहे पानी से हुई कीचड़ में आए दिन लोग गिर कर चोटिल हो रहे पर नपा के कानों में मानो जूं तक नही रेंग रही।

इन गड्ढों की कीमत किसे चुकानी पड़ेगी?

पूरे नगर में नल जल योजना (Tap Water Scheme) के नाम पर ठेकेदार द्वारा जगह-जगह की गई खुदाई और उससे परेशान जनता आने वाले नगरीय निकाय चुनाव का इंतजार कर रही है शायद जनता इन गड्ढों की कीमत का हिसाब किताब आने वाले नगरीय  निकाय चुनाव में पूरा करना चाहती है ।