Mahakal : नए साल में 15 लाख भक्त कर सकते हैं महाकाल के दर्शन, इस दिन से गर्भगृह में होगा प्रवेश बंद

Mahakal : उज्जैन का प्रसिद्ध ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर इन दिनों श्रद्धालुओं की पहली पसंद बना हुआ है। दरअसल, जबसे महाकाल लोग का लोकार्पण हुआ है तब से मंदिर में लाखों भक्त दर्शन के लिए और महाकाल लोक को देखने के लिए दूर-दूर से आ रहे हैं। वहीं 2022 का साल खत्म होने वाला है, ऐसे में नए साल में देश-विदेश से लाखों भक्तों के आने का अनुमान लगाया जा रहा है।

जानकारी के मुताबिक, जब से महाकाल लोक का निर्माण पूरा हुआ है तब से श्रद्धालुओं की संख्या में बढ़ोतरी देखने को मिली है। ऐसे में कहा जा रहा है कि नए साल में करीब 15 लाख भक्तों के आने का अनुमान है। 25 दिसंबर से 5 जनवरी तक 15 लाख भक्त महाकाल दर्शन के लिए आ सकते हैं। इसको लेकर अभी से ही प्रशासन ने तैयारियां और इंतजाम पूरे कर दिए हैं।

सोमवार के दिन कलेक्टर आशीष सिंह व एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ला ने महाकाल लोक की व्यवस्था का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने भीड़ की स्थिति को देखते हुए दो कतार में दर्शनार्थियों को मंदिर में बाबा महाकाल के दर्शन के लिए प्रवेश देने के निर्देश दिए हैं। साथ ही फैसिलिटी सेंटर और अन्य होल्डप में बैरिकेडिंग लगाने के लिए कहा है। इतना ही नहीं उन्होंने श्रद्धालुओं की सुविधा को देखते हुए पेयजल, पूजा स्टेण्ड आदि के लिए व्यापक इंतजाम करने के निर्देश भी दिए हैं।

24 दिसंबर से गर्भगृह में प्रवेश बंद –

जानकारी के मुताबिक, 24 दिसंबर से 5 जनवरी तक गर्भ ग्रह में भक्तों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा। ऐसे में गणेश मंडपम से भगवान महाकाल के दर्शन भक्तों को करवाए जाएंगे। साथ ही कम समय में शीघ्रता से भक्तों के जल्द से जल्द दर्शन करवाए जाएंगे। इसके लिए गणेश मंडपम में 3 लाइन बनाई जाएगी।