40 लाख की बीमा राशि के लिए हेड कांस्टेबल की हत्या, प्रेमी संग मिलकर पत्नी ने उतारा मौत के घाट

उज्जैन| योगेश कुल्मी| Ujjain News 32 वी बटालियन के हेड कांस्टेबल बलबीर की बीमा की 40 लाख की राशि के लिए पत्नी रेखा ने अपने शहडोल (Shahdol) में रहने वाले प्रेमी CRPF के आरक्षक रवि के साथ मिलकर हत्या की थी । शुक्रवार को सुबह आरक्षक घर की छत पर मृत मिला था| पत्नी ने कहा था कैसे मौत हुई पता नहीं, लेकिन पीएम रिपोर्ट में गले की हड्डी टूट कर सांस रुकने से मौत पाई गई थी| हत्या करने वाली पत्नी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है, वहीं हत्या में साथ देने वाला साथी रवि फरार है| एसपी उज्जैन ने पुलिस टीम (Ujjain Police) को 25 हजार के इनाम की घोषणा की है।

दरअसल, शुक्रवार की सुबह उज्जैन के 32 वीं बटालियन के प्रधान आरक्षक बलवीर सिंह उम्र 54 वर्ष की लाश पुलिस को घर की छत पर मिली थी| पत्नी रेखा से जब पुलिस ने पूछताछ की तो उसने बताया कि रात में आकर छत पर सोने चले गए थे, कैसे मौत हुई उसे नहीं पता| लेकिन पुलिस को पहली जांच में ही मामला संदिग्ध लग रहा था और जब पीएम रिपोर्ट आई तो उसमें गले की हड्डी टूट कर श्वास नली रुकने से मौत होना पाया गया| जांच में पुलिस को जानकारी लगी कि मृतक प्रधान आरक्षक की पत्नी रेखा से आए दिन उनका विवाद होता रहता था। पुलिस ने जब मृतक की पत्नी से सख्त पूछताछ की तो खुलासा हुआ कि रेखा ने अपने प्रेमी शहडोल निवासी सीआरपीएफ जवान रवि के साथ मिलकर प्रधान आरक्षक की गला दबाकर हत्या कर दी और शव को छत पर ले जाकर सोने कि स्थिति में रख दिया।

40 लाख की बीमा राशि के लिए हत्या, 20 20 लाख रुपए रखने वाले थे दोनों
मृतक बलवीर सिंह की पत्नी रेखा और प्रेमी रवि ने 40 लाख रुपए का बीमा बलवीर सिंह का करवाया था| जिसकी प्रीमियम रवि और आरोपी रेखा ने भरी थी। मौत के बाद यह बीमा राशि मृतक की पत्नी रेखा को ही मिलना थी राशि मिलने के बाद दोनों 20 20 लाख रुपए रखने वाले थे | पुलिस ने इस मामले में हत्या के आरोपी पत्नी रेखा को गिरफ्तार किया है| जबकि शहडोल निवासी सीआरपीएफ का जवान रवि अभी फरार है | इस अंधे कत्ल के खुलासे पर जांच टीम को ₹25 हजार रुपए का इनाम एसपी द्वारा दिया जाएगा|