उज्जैन की गजमार्क फर्म पर एडीएम और खाद्य विभाग का छापा

उज्जैन, योगेश कुल्मी। मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन जिले  (Ujjain district) के थाना चिमनगंज क्षेत्र स्तिथ ढांचा भवन इंडस्ट्रियल एरिया में Gajmark firm पर आज बुधवार (Wednesday) को एडीएम, खाद्य विभाग, आयुष विभाग व अन्य जांच दल द्वारा छापा मार कार्यवाई को अंजाम दिया गया।

दरअसल, उज्जैन में एक दिसम्बर (December) को कलेक्टर आशीष सिंह (Collector Ashish Singh), एसपी सत्येंद्र कुमार शुक्ल ने बृहस्पति भवन में खाद्य सुरक्षा अधिकारी, औषधी निरीक्षक, आपूर्ति अधिकारी, नापतौल अधिकारी, कृषि, खनिज एवं आबकारी विभाग (Mineral and Excise Department) के अधिकारियों व शहर के एसडीएम की बैठक लेकर निर्देश दिये थे कि मिलावटखोरी के विरूद्ध नियमित रूप से कार्यवाही कर प्रकरण दर्ज किये जायें। साथ ही कहा था कि पुलिस एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी सामंजस्य से प्रभावी कार्यवाही करें, किसी भी विशेष अभियान की आवश्यकता न पड़े जिसके तहत आज दूसरे दिन ही इस बड़ी कार्यवाई को अंजाम दिया गया।।

दरअसल फर्म मालिक फर्म मालिक उमेश मंडोरा मौके पर फ़ूड मल्टीविटामिन सिरप, टेबलेट, आर्युवेदिक ओषधि, सेनेटाइजर आदि का निर्माण करता है।जांच दल द्वारा मौके से vinkem आदि नामी ब्रांडेड कंपनी के प्रोडक्ट बिना किसी लिखित अनुमति के अस्वच्छ स्तिथी एवं बहुत ही अनियमित तरह से रखे मिले B-complex, vitamin c टेबलेट, प्रोटीन पाउडर आदि अधीक मात्रा में label के साथ पाए गए, मौके पर फर्म मालिक उमेश मंडोरा ने बताया कि नामी ब्रांड LYCOVIN सिरप जिसकी मार्किट कीमत 225 रुपये है जिसे 6.50 में बना कर देते है।।
मौके पर मौजूद एडीएम नरेंद्र सूर्यवंशी ने जानकारी देते हुए बताया कि मिलावट खोर और अशुद्ध के खिलाफ जो कार्यवाई चल रही है उसमे आज गजमार्क नामक कंपनी है जहां फ़ूड एंड ड्रग, फ़ूड एडल्टरेशन व आयुष विभाग के अधिकारियों के साथ जांच की गई जिसमें यहां के जो मालिक है उनके द्वारा दवाई, प्रोटीन पाउडर,सेनेटाइजर, bcomplex, Vitamin c आदि का यहां निर्माण किया जाता है जिसका इनके पास कोई रिकॉर्ड नहीं पाया गया साथ ही जो नामी कंपनी है vinkem, lycovin जैसे कंपनी के साथ इनका कोई लिखित अनुबंध भी नही है जिससे प्रथम दृष्ट्या नकली दवाई बनाने की संभावनाओ को बल मिलताहै अभी सैंपल लेकर जांच की जाएगी, डॉक्यूमेंट जांच किये जा रहे है लेकिन प्रथम दृष्ट्या तो अनियमिताएं पाई गई है जो भी कार्यवाई होगी सम्पूर्ण जांच के बाद की जाएगी।।