उज्जैन में ट्रैफिक पुलिस की मनमानी, बंद किया हरिफाटक ब्रिज, शहरवासी परेशान

Ujjain News: महाकाल लोक (Mahakal Lok) के निर्माण के बाद उज्जैन में यात्रियों की संख्या में काफी बढ़ोतरी हो गई है। लाखों की संख्या में दर्शनार्थी बाबा महाकाल के दर्शन कर महाकाल लोक के अनुपम सौंदर्य को निहारने के लिए आ रहे हैं। इसी बीच ट्रैफिक पुलिस की मनमानी सामने आई है। हरी फाटक ब्रिज जाने वाले मार्ग को पूरी तरीके से बंद कर दिया गया है, जिसके चलते आने जाने वाले लोगों को काफी दिक्कत हो रही है।

हरिफाटक जाने वाले मार्ग पर बैरिकेड और स्टॉपर लगाकर पुलिसकर्मियों को तैनात कर दिया गया है। इंदौर रोड से जितने भी वाहन इस तरफ आ रहे हैं उन्हें चिंतामन की तरफ डायवर्ट किया जा रहा है। मुश्किल इस बात की है कि इस रोड पर आने वाला हर व्यक्ति महाकाल लोक नहीं जाना चाहता। कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्हें रेलवे स्टेशन या देवास गेट बस स्टैंड की ओर जाना है, लेकिन नई व्यवस्था के चलते वह परेशान हो रहे हैं।

नई ट्रैफिक व्यवस्था से परेशान लोगों का कहना है कि अगर हरिफाटक के रास्ते हमें जिला अस्पताल भी जाना हो तो नहीं जाने दिया जा रहा है, यह तो पूरी तरीके से मनमानी है। उज्जैन में महाकाल लोक का निर्माण तो कर दिया गया है लेकिन भीड़ को लेकर प्लानिंग नहीं की गई है। जिसका खामियाजा स्थानीय लोगों को भुगतना पड़ रहा है।

मामले में एएसपी का कहना है कि महाकाल लोक के निर्माण के बाद हरिफाटक ब्रिज पर प्रेशर बढ़ गया है इसीलिए मन्नत गार्डन की रिक्त भूमि पर पार्किंग की सुविधा उपलब्ध कराई गई है। ये कदम इसलिए उठाया गया है ताकि लोग आसानी से पैदल भ्रमण कर सकें। उनका कहना है कि रेलवे स्टेशन और बस स्टैंड की ओर जाने वाले वाहनों की सुविधा के बारे में बात करें तो अगर लोग ड्यूटी पर तैनात पुलिसकर्मियों को यह बताएंगे कि उन्हें किस और जाना है तो उन्हें नहीं रोका जाएगा।