उज्जैन लोकायुक्त की बड़ी कार्रवाई, 8000 की रिश्वत लेते पटवारी रंगेहाथों गिरफ्तार

पटवारी अजीमुद्दीन कुरैशी को जमीन सीमांकन के नाम पर 8000 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है।

ujjain lokayukta

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट।  मध्य प्रदेश में भ्रष्टाचार के मामले तेजी से सामने आ रहे है। आए दिन अलग अलग जिलों में लोकायुक्त और EOW द्वारा कार्रवाई की जा रही है।इसी कड़ी में अब उज्जैन लोकायु्क्त टीम ने जिले में बड़ी कार्रवाई की है।टीम ने एक पटवारी को 8 हजार की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि पटवारी ने जमीन सीमांकन के नाम पर यह रकम मांगी थी ।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, जल्द मिलेगा इस योजना का लाभ! जानें खाते में कितनी आएगी पेंशन?

मिली जानकारी के अनुसार, उज्जैन लोकायुक्त ने मंगलवार को घट्टिया तहसील के ग्राम निपानिया गोयल में पदस्थ पटवारी अजीमुद्दीन कुरैशी को जमीन सीमांकन के नाम पर 8000 रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों गिरफ्तार किया है। इसकी शिकायत पूरनलाल धनोतिया निवासी ग्राम निपानिया गोयल ने 1 जून को उज्जैन लोकायुक्त से की पटवारी उसकी भाभी के नाम 2 जमीनों के सीमांकन के नाम पर 10000 रुपये की रिश्वत मांग रहा है।

यह भी पढ़े.. Shivraj Cabinet Meeting: शिवराज कैबिनेट बैठक आज, इन प्रस्तावों को मिल सकती है मंजूरी

इसके बाद टीम ने मामले को गंभीरता से लिया और जांच सही पाए जाने पर पटवारी को रंगेहाथों पकड़ने की योजना बनाई। इसके लिए लोकायुक्त ने पूरनलाल और पटवारी के बीच हुई बातचीत को रिकार्ड किया था, जिसमें 8 हजार रुपये में सौदा तय होने की बात सामने आई थी।इसके बाद आज मंगलवार को पूरनलाल को रिश्वत की रकम लेकर पटवारी के पास भेजा, जैसे ही उसने पैसे लेने के लिए हाथ बढ़ाए टीम ने उसे पीछे से धर दबोचा।यह कार्रवाई लोकायुक्त उज्जैन के डीएसपी सुनील तालान, टीआइ राजेंद्र वर्मा मौजूदगी में की गई।