दो दिन तक बंद पड़ी रही उज्जैन जिला अस्पताल की बायोकेमिस्ट मशीन, परेशान दिखे मरीज

Ujjain News: उज्जैन के चरक भवन में सेंट्रल पैथालॉजी लैब संचालित की जाती है। इन दिनों यहां अव्यवस्था का आलम देखा जा रहा है। बायोकेमिस्ट मशीन खराब होने की वजह से मरीजों को जांच करवाने में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा और रिपोर्ट भी समय पर नहीं मिल सकी। रिपोर्ट में देरी होने की वजह से मरीजों को उचित समय पर इलाज भी नहीं मिल सका है। परिजन लगातार रिपोर्ट लेने के लिए लैब के चक्कर लगाते दिखाई दिए।

बता दे कि बायोकेमिस्ट जांच के तहत थायराइड, ब्लड, यूरिन और लिपिड प्रोफाइल की जांच की जाती है। यह मशीन शुक्रवार से ही खराब चल रही थी। सुधरवाने के लिए सूचना दी गई लेकिन 2 दिन तक इसे नहीं सुधारा गया जिसके चलते मरीजों की जांच पेंडिंग पड़ी हुई थी। जिला अस्पताल और चरक अस्पताल में जितने भी डॉक्टर ड्यूटी पर रहते हैं वह रिपोर्ट के आधार पर ही मरीजों का इलाज करते हैं। रिपोर्ट ना मिल पाने की वजह से मरीजों को इलाज नहीं मिल पाया।

वहीं इस मामले में जिला अस्पताल के प्रशासन का कहना है कि तकनीकी समस्या आ गई थी, लेकिन कंपनी को सुधार करने की सूचना दे दी गई थी। टीम ने मशीन को ठीक कर दिया था और अब जांच कर समय पर मरीजों को रिपोर्ट दी जा रही है। हालांकि, ये पहली बार नहीं है जब पैथोलॉजी लैब में मरीजों को इस तरह की परेशानी का सामना करना पड़ा हो, इससे पहले भी इस तरह के मामले सामने आ चुके हैं।