कार्तिक मेले में हुई हत्या के आरोपियों के घर पर चला बुलडोजर, दुकान बंद होने से व्यापारी परेशान

Ujjain News: उज्जैन में कार्तिक मेले में लड़कियों को छेड़ने की बात पर शुरू हुए विवाद में की गई हत्या के मामले में अब प्रशासन एक्शन मोड में नजर आ रहा है। तीन थानों के पुलिस बल की मौजूदगी में आरोपियों के घर पर बुलडोजर चला दिया गया। कुल 9 आरोपियों के नाम सामने आए हैं जिसमें से एक नाबालिग भी बताया जा रहा है। शासन की इस कार्रवाई का किसी ने भी विरोध नहीं किया।

हत्या के मामले में पुलिस 6 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है और 3 अभी भी फरार चल रहे हैं। फरार आरोपियों की तलाश की जा रही है और जल्द ही इनके घर चिन्हित कर गिराने की कार्रवाई की जाएगी। कार्तिक मेले में छेड़खानी का विरोध करने पर एक युवक की हत्या की गई थी जिसके बाद भारी तनाव देखा जा रहा है। युवक के शव के साथ परिजनों और हिंदूवादी संगठन के कार्यकर्ताओं ने भी चक्का जाम कर प्रदर्शन किया था। गुस्साई भीड़ ने झूले में भी तोड़फोड़ कर दी थी।

कार्तिक मेले में हुई हत्या के आरोपियों के घर पर चला बुलडोजर, दुकान बंद होने से व्यापारी परेशान

मेला बंद, व्यापारी परेशान

भरी भीड़ में मेले में हुई इस हत्या को देखते हुए अधिकारियों ने मेला बंद करने की घोषणा कर दी थी, जिससे व्यापारी परेशान नजर आए। नाराज व्यापारी नगर निगम कार्यालय पहुंचे और अर्धनग्न होकर प्रदर्शन किया। वहीं इस मामले में महापौर का कहना है कि जिला प्रशासन ने निर्णय लेने से पहले हमसे इस बारे में किसी भी तरह की राय नहीं ली है। मेला चलाया जाना चाहिए। परेशान व्यापारियों का कहना है कि उन्होंने तय फीस देकर 1 महीने के लिए दुकान लगाई है, लेकिन 14 दिन में ही हटाया जा रहा है। इस तरह से तो हम कर्ज कैसे चुकाएंगे हमने ब्याज पर पैसा लेकर दुकानें लगाई है।

कार्तिक मेले में हुई हत्या के आरोपियों के घर पर चला बुलडोजर, दुकान बंद होने से व्यापारी परेशान

आरोपी ने कबूला जुर्म

पुलिस द्वारा पकड़े गए आरोपियों में शामिल एक सलीम नामक युवक ने बताया कि नाव वाले झूले पर लड़की अपने परिवार के साथ झूलने आई थी। इस दौरान लड़की को कुछ बोल दिया तो उसके परिवार वाले झगड़ा करने लगे और उनमें से एक युवक ने चांटा मार दिया। इसके बाद झूले पर मौजूद बाकी लड़कों ने फोन कर अन्य साथियों को बुलाया और चांटा मारने वाले युवक के सीने में चाकू घोंप दिया। चाकू मारने के बाद वह मौके पर ही ढेर हो गया और हम भाग निकले।

झूला मालिक से है आरोपी का कनेक्शन

पूछताछ के दौरान यह भी सामने आया है कि जो आरोपी हैं वह झूला मालिक के परिवार से ही है। उज्जैन के हेलावाड़ी निवासी आरिफ और खालिद की जगह पर अकील और शकील झूला चला रहे थे। इन्हीं के परिवार के सद्दाम, सलमान, इसराक, उस्मान, जीशान और एक अन्य नाबालिग को पुलिस ने हिरासत में लिया है।

झूला संचालक ब्लैक लिस्टेड

हत्या की इस घटना के बाद महापौर मुकेश टटवाल ने एमआईसी के सदस्यों और अफसरों की बैठक ली। बैठक के दौरान जिस झूले पर विवाद हुआ है उसके संचालक को ब्लैक लिस्टेड कर दिया गया है। ये जानकारी भी सामने आई है कि झूला संचालक पर करीब 4 लाख बकाया चल रहे हैं। जिसके चलते अब उसके झूले को भी राजसात किए जाने की तैयारी शुरू कर दी गई है।