उज्जैन पहुंचे सीएम शिवराज बोले,- मप्र में माफियाओं को तबाह और बर्बाद कर देंगे, प्रशासन की तारीफ की

मुरैना की घटना को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा पूरे मामले को लेकर एसआईटी गठित कर दी गई है जो मुझे जांच के बाद रिपोर्ट सौंपीगी उसके बाद में कार्रवाई करूंगा लेकिन अभी मैंने तत्काल रुप से उज्जैन आते समय रास्ते में ही मुरैना के आबकारी अधिकारी और एक टीआई को निलंबित कर दिया है

उज्जैन, योगेश कुल्मी| उज्जैन (Ujjain) पहुंचे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chauhan) ने एक बार फिर मंच से माफियाओं, गुंडों, बदमाशों को चेतावनी देते हुए कहा कि ड्रग माफिया, भू-माफिया, जमीनों पर कब्जा करने वाले, दादागीरी करने वाले, बेटी-बहनों को छेड़ने वाले, चिटफंड कंपनी के नाम पर धोखा देने वाले सावधान हो जाएं। उन्हें तबाह और बर्बाद करके छोड़ेंगे। इस दौरान सीएम ने माफिया के खिलाफ कार्रवाई पर उज्जैन प्रशासन (Ujjain Administration) की प्रशंसा की|

दरअसल, मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज कालिदास अकादमी में आयोजित दिव्यांगों को दी जाने वाली बैटरी चलित ट्राई साईकिल वितरण कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे| उन्होंने मंच से संबोधित करते हुए उज्जैन सांसद अनिल फिरोजिया को बधाई दी और कहा कि आज स्वामी विवेकानंद जी की जयंती पर अच्छा और नेक काम किया है मुख्यमंत्री ने कहा कि नर सेवा ही नारायण सेवा है दूसरों की सेवा ही सबसे बड़ा पुण्य है और दूसरों को तकलीफ देना ही सबसे बड़ा पाप है मुख्यमंत्री ने कहा कि दिव्यांग भाई बहन सामान्य जनता आम लोग और यह प्रदेश की जनता ही अपनी भगवान है और मैं महाकाल महाराज की सौगंध खाता हूं कि इनकी सेवा में पूरी सरकार खड़ी है मंच से भी उज्जैन जिला प्रशासन की मुख्यमंत्री ने बहुत तारीफ की ।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने पत्रकारों से कहा उज्जैन में जिला प्रशासन ने 400 करोड रुपए की जमीन मुक्त कराई है यह जमीन जनता के काम आएगी इस कार्य के लिए जिला प्रशासन को बधाई मध्यप्रदेश में माफियाओं के खिलाफ मुहिम चल रही है चाहे ड्रग माफिया हो भू माफिया हो किसी को नहीं बख्शा जाएगा बेटियों के साथ छेड़खानी करने वाले और उन्हें बरगलाने वालों पर भी सख्त कार्रवाई अब होगी मुख्यमंत्री ने कहा उज्जैन नगरी तीनों लोकों में न्यारी है उज्जैन में दुनियाभर से लोग महाकाल का आशीर्वाद लेने आते हैं इसलिए लोगों की सुख सुविधा का भी पूरा ध्यान रखा जाना चाहिए इसलिए आज महाकाल मंदिर विस्तारीकरण कार्य के लिए 500 करोड़ों रुपए मंजूर किए गए हैं इसकी व्यवस्था की जाएगी और विस्तारीकरण कार्य में जो लोग प्रभावित होंगे उनके पुनर्वास की भी समुचित व्यवस्था होगी

मुरैना की घटना पर बोले- रिपोर्ट मिलते ही होगी कार्रवाई
मुरैना की घटना को लेकर मुख्यमंत्री ने कहा पूरे मामले को लेकर एसआईटी गठित कर दी गई है जो मुझे जांच के बाद रिपोर्ट सौंपीगी उसके बाद में कार्रवाई करूंगा लेकिन अभी मैंने तत्काल रुप से उज्जैन आते समय रास्ते में ही मुरैना के आबकारी अधिकारी और एक टीआई को निलंबित कर दिया है । सुप्रीम कोर्ट द्वारा कृषि बिल पर रोक लगाए जाने के संबंध में मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने अभी वह आदेश पढ़ा नहीं इसलिए मैं कुछ कह नहीं सकता ।