महाकाल मंदिर के गर्भगृह में 10 जनवरी तक प्रवेश बंद

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। कोरोना की तीसरी लहर का असर अब धार्मिक स्थलों पर भी देखने में नज़र आ रहा है। कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए अब महाकाल मंदिर समिति ने गर्भगृह में प्रवेश बंद रखने का फैसला किया है। 10 जनवरी महाकाल मंदिर के गर्भगृह में 10 जनवरी तक प्रवेश बन्द कर दिया गया है।

यह भी पढ़े.. Gwalior में फूटा कोरोना बम, एक दिन में मिले 22 संक्रमित मरीज

कोरोना के लगातार बढ़ते मामलों ले कारण यह फैसला लिया गया है। इस फैसले के बाद ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर के गर्भगृह व नंदी मंडप में अब 10 जनवरी तक भक्तों का प्रवेश पूरी तरह बंद रहेगा।
वही इस दौरान नित्य नियम की पूजा-अर्चना व व्यवस्था के लिए पुजारी, पुरोहित व कर्मचारी ही गर्भगृह में प्रवेश कर सकेंगे।

यह भी पढ़े.. Indore News : बजरंग सेना और हिंदू महासभा के 50 लोगो पर इसलिए हुआ केस दर्ज

उज्जैन कलेक्टर आशीष सिंह के निर्देश पर मंदिर प्रशासन ने नए साल में 30 दिसंबर से तीन जनवरी तक गर्भगृह व नदी मंडप में दर्शनार्थियों का प्रवेश बंद रखने का निर्णय लिया था लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों के बावजूद भी रोजाना बड़ी संख्या में देशभर से श्रद्धालु बाबा महाकाल के दर्शन करने आ रहे है। जिसके बाद प्रशासन ने यह फैसला लिया है। और प्रवेश न देने का यह निर्णय बढ़ाया गया। इस दौरान भक्तों को गणेश मंडप से भगवान महाकाल के दर्शन होंगे।