मप्र विधानसभा चुनाव 2023 में संतों की एंट्री, भाजपा के खिलाफ भरी हुंकार, चुनाव लड़ने का ऐलान

mp election 2023

MP Election 2023 : सनातन धर्म और संतों की बात करने वाली भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ संत ही आ गए हैं, विधानसभा चुनाव में एक भी संत को टिकट नहीं दिए जाने से नाराज उज्जैन के संतों ने हुंकार भरी है और चुनाव लड़ने का ऐलान किया है।

विधानसभा चुनवा के लिए अभी प्रदेश में नामांकन फॉर्म भरे जा रहे हैं, पार्टी द्वारा घोषित उम्मीदवार चुनाव मैदान में हैं, हालाँकि टिकटों को लेकर भाजपा और कांग्रेस दोनों में घमासान चल रहा है, कांग्रेस ने 7 टिकट बदल दिए हैं तो अब भाजपा पर भी टिकट बदलने का दबाव बनाया जा रहा है।

टिकट नहीं मिलने से नाराज संतों ने भाजपा के खिलाफ खोला मोर्चा 

मप्र के संत भाजपा से टिकट बदलने की मांग कर रहे हैं और कम से कम एक संत को टिकट देने की मांग कर रहे हैं। बुधवार को मक्सी रोड स्थित अवधेश धाम आश्रम में महंत अवधेश पुरी महाराज के नेतृत्व में संतों ने भाजपा के खिलाफ हल्ला बोला। संतों का आरोप है कि भारतीय जनता पार्टी हिंदू धर्म की हितेषी पार्टी बनती है परंतु पूरे मध्य प्रदेश में किसी भी सीट पर एक भी संत को चुनाव में नहीं लड़ा रही है।

उज्जैन की दो सीटों से चुनाव लड़ने का ऐलान 

आक्रोशित संतों ने उज्जैन उत्तर और दक्षिण विधानसभा से निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान  किया है। संतों ने यह भी कहा कि ऐसे मुद्दे जो सनातन धर्म से जुड़े हैं और भाजपा सरकार 20 वर्षों से हल नहीं कर पाई है यदि उन्हें तत्काल हल करने का आश्वासन दिया जाता है तो वह चुनाव नहीं लड़ने पर विचार करेंगे।


About Author
Atul Saxena

Atul Saxena

पत्रकारिता मेरे लिए एक मिशन है, हालाँकि आज की पत्रकारिता ना ब्रह्माण्ड के पहले पत्रकार देवर्षि नारद वाली है और ना ही गणेश शंकर विद्यार्थी वाली, फिर भी मेरा ऐसा मानना है कि यदि खबर को सिर्फ खबर ही रहने दिया जाये तो ये ही सही अर्थों में पत्रकारिता है और मैं इसी मिशन पर पिछले तीन दशकों से ज्यादा समय से लगा हुआ हूँ.... पत्रकारिता के इस भौतिकवादी युग में मेरे जीवन में कई उतार चढ़ाव आये, बहुत सी चुनौतियों का सामना करना पड़ा लेकिन इसके बाद भी ना मैं डरा और ना ही अपने रास्ते से हटा ....पत्रकारिता मेरे जीवन का वो हिस्सा है जिसमें सच्ची और सही ख़बरें मेरी पहचान हैं ....

Other Latest News