उज्जैन| इंदौर में मेडिकल टीम पर हमला करने की घटना की जहाँ देश भर में निंदा की गई थी| वहीं अब इसके उलट तस्वीर उज्जैन से सामने आई है| जहां रविवार को कोरोना प्रभावित क्षेत्र जानसापुरा स्कैनिंग के लिए पहुंची मेडिकल टीम पर लोगों ने फूल बरसाकर आभार माना|

जानसापुरा में ही उज्जैन का पहला कोरोना पाॅजिटिव मरीज मिला था। यहां कोरोना पॉजिटिव 65 वर्षीय महिला की मौत हो चुकी है, जबकि महिला के परिवार के पति सहित छह लोग कोरोना पीड़ित हैं। रविवार को कोरोना हाईरिस्क जोन जांसापुरा, हम्माल वाड़ी में मुस्लिम समाज की महिलाओं ने मेडिकल टीम डॉक्टर , स्वास्थ्यकर्मी का पुष्पवर्षा कर स्वागत किया। बच्चाें और महिलाओं ने डॉक्टरों को माला पहनाई और मानव सेवा के लिए उन्हें धन्यवाद कहा।

पिछले दिनों इंदौर में टाटपट्‌टी बाखल में मेडिकल टीम पर उपद्रवियों ने पथराव कर दिया था| इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पैर वायरल हुआ था| मामला सामने आने के बाद आरोपियों पर रासुका की कार्रवाई की गई है| इसके साथ ही मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश वासियों से कोरोना कर्मवीरों के साथ अच्छा व्यव्हार करने की अपील करते हुए चेतावनी दी थी कि कोरोना के खिलाफ जंग में तैनात कर्मियों से दुर्व्यवहार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा| उज्जैन में सामने आई तस्वीर कोरोना योद्धाओं का उत्साहवर्धन करेगा|