लोकायुक्त के हत्थे चढ़ा मंड़ी का प्रभारी सचिव, रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार, बाबू भागा

lokayukt-police-catch-mandi-secretary-in-taking-12-thousand-rupee-bribe-ujjain

उज्जैन। मध्यप्रदेश के उज्जैन में लोकायुक्त ने बड़ी कार्रवाई की है।टीम ने यहां कृषि उपज मंडी के प्रभारी सचिव को रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है। आरोप है कि सचिव ने व्यापारी से मंडी का लाइसेंस बनाने के नाम पर मांग की थी।टीम ने मंडी सचिव संजीव कुमार को गिरफ्तार कर बाद में मुचलके पर रिहा कर दिया। निरीक्षक अंतिम पंवार ने बताया कि मप्र भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम की धाराओं के साथ भादवि धारा 120बी का भी प्रकरण दर्ज किया है। कार्रवाई में मोहम्मद आसिफ खान, अशोक खत्री, संदीप कदम, पारस कुमार आदि की भूमिका रही।

जानकारी के अनुसार, लोकायुक्त पुलिस ने उन्हेल की कृषि उपज मंडी के प्रभारी सचिव  संजीव कुमार जैन को रिश्वत के 12 हजार रुपए लेते रंगेहाथ पकड़ा है। मंडी लाइसेंस बनाने के नाम पर सचिव ने एक व्यापारी से रुपए की मांग की थी। कार्रवाई होते देख घूसखोरी में सहयोगी बाबू मौके से भाग निकला। लोकायुक्त के अनुसार कृषि मंडी में अनाज खरीदी कारोबार शुरू करने के लिए दिनेश जायसवाल ने लाइसेंस बनवाने का आवेदन दिया था। किंतु लंबे समय से संबंधित बाबू राजेश वर्मा व प्रभारी सचिव संजीव जैन चक्कर लगवा रहे थे। शिकायत के बाद उज्जैन से लोकायुक्त डीएसपी वेदांत शर्मा के नेतृत्व में टीम सुबह 11 बजे कृषि मंडी कार्यालय पहुंची। बाद में दिनेश जायसवाल को 12 हजार रुपए देकर मंडी सचिव के पास भेजा। दिनेश ने सचिव को रुपए देकर जैसे ही इशारा किया, लोकायुक्त टीम ने सचिव को धर दबोचा। टीम ने सचिव के पेंट की जेब से रुपए जब्त कर हाथ धुलवाए तो पानी का रंग गुलाबी हो गया। टीम ने मंडी सचिव संजीव कुमार को गिरफ्तार कर बाद में मुचलके पर रिहा कर दिया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here