CM Shivraj की बड़ी घोषणा, कारखाने लगने के साथ बढ़ेंगे रोजगार के साधन

CM Shivraj ने कहा कि हमने तय किया है कि ऐसे सभी मित्रों को वृक्ष वीर और वृक्ष वीरांगनाओं की उपाधि दी जाएगी और प्राण वायु अवार्ड से सम्मानित भी किया जाएगा।

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) आज उज्जैन दौरे पर थे। इस दौरान उन्होंने गोवर्धन पूजा (govardhan pooja) कर महाकाल मंदिर परिसर मैं अंकुर अभियान की शुरुआत की। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज सुबह उज्जैन के महाकालेश्वर मंदिर में भगवान महाकाल की विधि-विधान से पूजा-अर्चना कर प्रदेशवासियों की सुख-समृद्धि की कामना की।

इस दौरान सीएम शिवराज (CM Shivraj) ने कहा कि आज हम महाकाल बाबा के प्रांगण में खड़े हैं। मंदिर परिसर में निर्माण के कार्य लगातार जारी हैं। महाकाल बाबा की नगरी का ये सांस्कृतिक पुनरुत्थान हो रहा है। जब ये सारे काम पूरे होंगे तो ये नगरी, उन्हीं की कृपा से अद्भुत और अद्वितीय होगी।

Read More: MP Weather Alert: अगले 24 घंटे में बदलेगा मौसम, तापमान में गिरावट से बढ़ेगी ठंड

सीएम शिवराज ने कहा कि ग्लासगो सम्मेलन में PM Modi द्वारा भी सहभागिता की गई।जहां भारत की ओर से क्लाइमेट चेंज से निपटने विश्व को पंचामृत की सौगात दी। भारत 2030 तक अपनी non-fossil energy capacity को 500 गीगावाट तक पहुंचाएगा और 50 प्रतिशत ऊर्जा की पूर्ति नवकरणीय ऊर्जा से पूरी करेगा। भारत 2030 तक कुल प्रोजेक्टेड कार्बन उत्सर्जन में एक बिलियन टन की कमी करेगा। 2030 तक भारत, अपनी अर्थव्यवस्था की कार्बन इंटेन्सिटी को 45 प्रतिशत से कम करेगा। वर्ष 2070 तक भारत, नेट जीरो कार्बन का लक्ष्य हासिल करेगा।

वृक्ष वीर-वृक्ष वीरांगनाओं की उपाधि दी जाएगी- CM Shivraj

सीएम शिवराज ने कहा कि जो सस्ती बिजली दे रहे हैं, उस पर 21 हजार करोड़ रुपए सब्सिडी सरकार दे रही है। जो गरीबों को बिजली दे रहे हैं, उस पर 6 हजार करोड़ की सब्सिडी सरकार भरती है। कल ही डीजल में बहुत बड़ी राहत दी है। अंकुर अभियान 5 जून पर्यावरण दिवस पर प्रारम्भ किया था।2 लाख 97 हजार नागरिकों ने वायुदूत एप पर पंजीयन कराया। इसको तेजी से बढ़ाने की जरूरत है। हमने तय किया ऐसे मित्रों को वृक्ष वीर-वृक्ष वीरांगनाओं की उपाधि दी जाएगी और प्राण वायु अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा। 

सोलर पैनल बिछाकर पानी पर बिजली बनाएंगे- CM Shivraj

सीएम शिवराज ने कहा कि ओम्कारेश्वर बांध में सोलर पैनल बिछाकर पानी पर बिजली बनाएंगे। सौर ऊर्जा के लिए जितने उपकरण बनना हैं सब मध्यप्रदेश में बनाए जाएंगे। यहां कल कारखाने भी चलेंगे और लोगों को रोजगार भी देंगे। पीएम मोदी का सिर्फ भाषण ही नहीं था अपितु 130 करोड़ भारतवासियों के लिए राष्ट्रीय पुनर्जागरण का संदेश था। प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में वैभवशाली, गौरवशाली, संपन्न और समृद्ध भारत का उदय हो रहा है।

पूजा के दिन CM Shivraj का आवाहन – एक तो पेड़ लगाना, दूसरा पेड़ बचाना

सीएम शिवराज ने कहा कि उज्जैन अत्यंत प्राचीन और महान नगरी है। यहां की परंपराएं, जीवन मूल्य और इतिहास को फिर से सजाने-संवारने का महायज्ञ चल रहा है। यहां शिव स्तंभ, सप्त ऋणि मंडल, पद्म सरोवर, 52 शिव कथाएं आदि उकेरी जा रही हैं। स्तंभों पर अलग-अलग भाव भंगिमाएं होंगी। यह पुनर्जागरण हैसीएम शिवराज ने कहा कि मित्रों मैं रोज एक पेड़ लगाता हूं। अंकुर अभियान धरती को बचाने का पवित्र महा अभियान है। मैं गोवर्धन पूजा के दिन आवाहन करता हूं एक तो पेड़ लगाना दूसरा पेड़ बचाना।

सीएम शिवराज पीएम मोदी के केदारनाथ में हो रहे कार्यक्रम से वीसी के माध्यम से उज्जैन जिले से सीधे जुड़े। सीएम शिवराज ने कहा कि भगवान शंकर सभी कष्टों को हरने वाले हैं। सबका कल्याण और मंगल करने वाले हैं। उनकी कृपा से आज केदारनाथ वापस अपने दिव्य-स्वरूप में नजर आ रहा है।

सीएम शिवराज ने कहा कि मैं पीएम मोदी का अभिनंदन करता हूं कि उन्होंने देवभूमि को उसके पुराने स्वरूप में वापस लाने में कोई कसर नहीं छोड़ी। पीएम मोदी के सशक्त और सक्षम नेतृत्व में आज भारत वैश्विक पटल पर भी अपनी सुदृढ़ स्थिति दर्ज करा रहा है।प्रधानमंत्री के आशीर्वाद से हम भी वैभवशाली, गौरवशाली, समृद्ध, विकसित और आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश के निर्माण के लिए प्रतिबद्ध हैं। सीएम शिवराज बोले ने आज बाबा केदारनाथ के दर्शन कर आदि गुरू शंकराचार्य जी की प्रतिमा के अनावरण के साथ-साथ अनेकों विकास के कार्यों का लोकार्पण किया है।

सीएम शिवराज ने कहा कि कभी स्वामी विवेकानंद जी ने कहा था कि जो अंधे हैं वह देख नहीं सकते, जो बहरे हैं वह सुन नहीं सकते। लेकिन मैं स्पष्ट रूप से देख रहा हूं कि महानिशा का अंत निकट है। भारत माता एक बार फिर से अपने नेत्र खोल रही है। सीएम शिवराज ने कहा कि आज गोवर्धन पूजा है। मैं कन्हैया को प्रणाम करता हूं। उन्होंने करीब साढ़े पांच हजार पहले यह मंत्र दिया था। प्रकृति, पर्वत की पूजा करो। धरती को बचाना है तो अभी से सजग हो जाओ। पेड़ लगाएं, वायुदूत एप पर फोटो अपलोड करें। सीएम शिवराज ने कहा कि हमने तय किया है कि ऐसे सभी मित्रों को वृक्ष वीर और वृक्ष वीरांगनाओं की उपाधि दी जाएगी और प्राण वायु अवार्ड से सम्मानित भी किया जाएगा।