Mahakal Lok और चारधाम फोरलेन को जोड़ेगा पैदल ब्रिज, तेजी से चल रहा विस्तारीकरण का दूसरा चरण

महाकालेश्वर विस्तारीकरण योजना के दूसरे चरण का काम तेजी से किया जा रहा है। चारधाम फोरलेन से महाकाल लोक (Mahakal Lok) को जोड़ने वाला पैदल ब्रिज जल्द ही बनकर तैयार होगा।

Mahakal Lok: महाकालेश्वर विस्तारीकरण योजना के तहत रुद्र सागर के तालाब पर एक पैदल पुल बनाया जाने वाला है। इस ब्रिज के जरिए चारधाम फोरलेन, महाकाल लोक से सीधा जुड़ जाएगा। विस्तारीकरण के दूसरे चरण का काम तेजी से किया जा रहा है।

पैदल ब्रिज बनाने के लिए मिट्टी का आधार बनकर तैयार हो गया है और पोल निर्माण के लिए खुदाई की जा रही है। जानकारी के मुताबिक 200 मीटर लंबे और 7 मीटर चौड़े इस पैदल ब्रिज का निर्माण अगले साल बारिश से पहले पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। रुद्रसागर के जलस्तर को कम कर मिट्टी का आधार तैयार किया गया है। जिससे तालाब का पानी दो हिस्से में बंट चुका है। ब्रिज जैसे ही बनकर तैयार होता है इस आधार को हटा दिया जाएगा।

ऐसे होगा निर्माण

विस्तारीकरण का सारा काम स्मार्ट सिटी के अंतर्गत किया जा रहा है इसलिए ब्रिज को बनाने से पहले इसके डिजाइन और निर्माण शैली पर काफी चर्चा की गई है। पुल का निर्माण किए जाने के बाद मंदिर की सुंदरता पर कोई असर ना हो और यह मजबूत भी रहे इसी को देखते हुए आरसीसी ब्रिज बनाने का निर्णय लिया गया। ब्रिज के पिलर को कंक्रीट और पत्थरों से सजाया जाने वाला है और यहां से हरसिद्धि और महाकालेश्वर का शिखर आसानी से दिखाई देगा।

यात्रियों को होगी सुविधा

पुल के निर्माण से यात्रियों को आने-जाने में काफी सुविधा होगी। इससे मंदिर में भीड़ भी कम हो जाएगी और आपदा के समय राहत वाहन आसानी से आ जा सकेंगे। पुल का मध्य भाग थोड़ा चौड़ा रखा जाने वाला है ताकि दर्शक यहां से लेजर शो और वाटर कर्टन शो देख सकें।