जहरीली शराब काण्ड पर सियासत शुरू, कमलनाथ ने सरकार को घेरा, मामले की जांच करेगी कांग्रेस की टीम

उज्जैन में अब तक 11 मौतें, थाना प्रभारी समेत 4 पुलिसकर्मी सस्पेंड

भोपाल/उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। उज्जैन (Ujjain) में जहरीली शराब पीने से मौत के मामले पर सियासत शुरू हो गई है| अब तक जिले में 14 लोगों की मौत हो चुकी है। पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamalnath) ने सरकार पर निशाना साधते हुए कहा शिवराज जी, ये माफिया कब तक यूँ ही निर्दोषो की जान लेते रहेंगे, आपकी सरकार का माफ़ियाओ से आख़िर इतना प्रेम क्यों|

मामले में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (Shivraj Singh Chouhan) ने सख्ती दिखाई है और दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की बात कही है| इधर मामले में एसआईटी का गठन किया है, जो जांच करेगी। इसके साथ ही एक और कमेटी अपर मुख्य सचिव गृह की अध्यक्षता में बनाई गई है, जो पूरे मामले की जांच करेगी। उज्जैन के खाराकुआं थाना प्रभारी और एसआई समेत चार पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया है। वहीं कमलनाथ की टीम भी मामले की जांच करेंगे| कमलनाथ ने विधायक महेश परमार समेत 4 सदस्यीय जांच कमेटी का गठन किया है, जो उज्जैन जाकर वहां पीड़ित परिवार से मिलेगी और जांच करके रिपोर्ट कमलनाथ को सौंपेगी।

आपकी सरकार का माफ़ियाओ से आख़िर इतना प्रेम क्यों
पूर्व सीएम कमलनाथ ने ट्वीट कर सरकार पर निशाना साधा| उन्होंने लिखा- ‘उज्जैन में शराब माफिया ने 9 जाने लीन ली , 9 परिवार बर्बाद कर दिये। शिवराज जी , ये माफिया कब तक यूँ ही निर्दोषो की जान लेते रहेंगे ? हमने इन्हें कुचला था , हमारी सरकार जाते ही ये फिर बेख़ौफ़ हो गये , फिर सक्रिय हो गये ? आपकी सरकार का माफ़ियाओ से आख़िर इतना प्रेम क्यों, क्यों इन्हें बख्शा जा रहा है ? क्यों इन्हें संरक्षण दिया जा रहा है ? मृतकों के प्रति मेरी शोक संवेदनाएँ। पीड़ित परिवारो को न्याय मिले , उनकी हर संभव मदद हो , दोषियों पर कड़ी से कड़ी कार्यवाही हो

अब तक 14 मौतें
उज्जैन में जहरीली शराब पीनी से मौत का मामला सामने आया था, मृतकों की संख्या अब और बढ़ गई है| अलग-अलग समय में हुई मौतों से हड़कंप मच गया| बुधवार काे 7 मजदूरोंं की माैत के बाद गुरुवार को 4 लोगों की मौत हो चुकी है। गुरुवार को सुबह नरसिंह घाट क्षेत्र और ढाबा राेड क्षेत्र से भी दाे मजदूरों के शव मिले। मजदूर शराब के आदी थे। कहारवाड़ी क्षेत्र से सस्ती झिंझर (पोटली) शराब खरीदकर पिया करते थे। आशंका है कि ज्यादा शराब पीने से इनकी मौत हो गई। हालांकि, पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही इसकी पुष्टि हो सकेगी।

अब तक 10 लोगों की गिरफ्तारी
उज्जैन एसपी मनोज कुमार सिंह ने बताया कि इस मामले में जहरीले झिंजर पीने की पुष्टि हुई है। पुलिस ने कल रात से कार्यवाही में अभी तक 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। जिसमें मुख्य रुप से जिंजर बनाने वाले सिकंदर गबरू और यूनुस हैले को गिरफ्तार किया है। यह छतरी चौक स्थित नगर निगम की मल्टी लेवल पार्किंग में अवैध रूप से जिंजर पोटली बनाकर मजदूरों को बेचा करते थे। उज्जैन पुलिस ने पूरे जिले में अवैध रूप से बन रही शराब माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई करना शुरू की है लेकिन मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ रहा है। लाशों का पीएम करने वाले डॉक्टर ने भी पुष्टि की है कि पीएम के बाद विषय में शराब की पुष्टि हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here