अलीगढ़ के बाद अब एमपी में मासूम से हैवानियत, अपहरण कर रेप के बाद हत्या

rape-murder-of-5-year-old-girl-after-kidnapping-in-ujjain-mp

उज्जैन।

देश में उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में ढाई साल की बच्ची की निर्मम हत्या के बाद अब मध्यप्रदेश की धार्मिक नगरी से दिल दहलाने वाला मामला सामने आया है। यहां एक पांच साल की मासूम का अपहरण कर दुष्कर्म करने करने के बाद उसकी हत्या कर दी गई।मासूम के शरीर पर चोट के कई निशान पाए गए है, वही शव लालपुल के पास शिप्रा नदी में मिला है।पुलिस ने इस मामले में उज्जैन पुलिस ने बच्ची के चाचा मोहनलाल और दो  अन्य व्यक्ति को गिरफ्तार किया है।इधर एसपी ने एसआईटी गठित कर जांच शुरू कर दी है। वही संदेहियों से पूछताछ चल रही है और जल्द ही इस मामले में खुलासा किया जाएगा।

          जानकारी के अनुसार, यह घटना लालपुल-भूखीमाता रोड किनारे बने ईंट-भट्‌टे पर काम करने वाले मजदूर दंपती की बेटी के साथ हुई है। यहां राजेन्द्र प्रजापति का ईंट भट्टा संचालित होता है। भट्टे पर आगर जिले के आबर गांव निवासी अपनी पत्नी और बेटा तथा बहू के साथ यहां मजदूरी करते हैं। बेटे की तीन बेटियां 5 से 9 साल की भी उनके साथ रहती है। बीती रात भट्ठे पर पूरा परिवार एक टापरे में सो रहा था। 5 साल की मासूम अपने दादा-दादी और माता-पिता अन्य दो बहनों के साथ सोई हुई थी। पुलिस के मुताबिक दादा ने रात दो बजे बच्ची को सोए हुए देखा था। जब सुबह 4 बजे उनकी नींद खुली तो बच्ची कमरे से गायब थी। इस पर पूरे परिवार ने ढूंढते हुए आसपास टपरी में रहने वाले को जानकारी दी। बच्ची के नहीं मिलने पर 100 डायल को सूचना देकर पुलिस को बुलाया। पुलिस ने भी खोजबीन की लेकिन उसका पता नहीं चला। शुक्रवार दोपहर तीन बजे सूचना मिली कि भूखी माता क्षेत्र के यहां लालपुर के समीप नदी में एक बच्ची का शव उतरा रहा है। मौके पर पहुंची पुलिस ने जब शव की पहचान की तो वह ईट-भट्ठे से गायब बच्ची की मिली। बच्ची की अर्धनग्न अवस्था में थी और शरीर पर चोट के निशान भी थे। आशंका है कि किसी ने रात बच्ची को अपहरण किया। भट्ठे पर सुनसान जगह ले जाकर बच्ची के साथ दुष्कर्म किया। अपराध छिपाने के लिए बच्ची के ईंट या पत्थर से मारकर हत्या की और फिर शव को शिप्रा नदी में फेंक दिया।

पुलिस ने शव को जब्त कर पीएम के लिए भेजा जहां दुष्कर्म की पुष्टी हुई है। बताया जा रहा है कि शव का पोस्टमार्टम जिला अस्पताल में तीन डॉक्टरों की पैनल ने किया। पीएम में बालिका के चेहरे पर पांच फ्रैक्चर मिले हैं। नाक, गाल व सिर की हडि्डयां टूटी हुई थीं। इसके अलावा चेहरा बुरी तरह कुचला हुआ था। इधर, पुलिस को नदी के किनारे से बच्ची के कपड़े, खून से सनी ईंट और शराब की बोतल भी मिली है। पुलिस के अनुसार ईंट-भट्टे पर 150 से ज्यादा मजदूर काम करते हैं। पुलिस के अनुसार सभी बिंदुओं पर जांच की जा रही है। ईंट-भट्‌टे पर काम करने वालों से पूछताछ की जा रही है, ताकि आरोपी का सुराग मिल सके। पुलिस भूखी माता क्षेत्र व लालपुर पर शिप्रा नदी के आसपास भी लोगों से पूछताछ कर रही है ताकि किसी ने बच्ची को लाते हुए देखा।  घटना के दौरान आसपास के मोबाइल लोकेशन भी ट्रेस किए जा रहे हैं।वहीं हत्या हुई बच्ची के परिजनों का यहां किसी से विवाद होना भी सामने आया है।

इनका कहना है

मासूम का शव जहां से मिला, वहीं पास में खून से सनी ईंट मिली है। इसी ईंट से बदमाश ने बच्ची के सिर पर वार किए थे। घटना में निश्चित रूप से कोई परिचित ही है, जिसने यह कृत्य किया। बच्ची उसे पहचानती थी, इसलिए उसे मार भी डाला। जल्द ही इस राज का खुलासा किया जाएगा

अरविंदसिंह तोमर, महाकाल थाना, टीआई 

अब इस मामले में उज्जैन पुलिस ने दो आरोपियों को हिरासत में लिया है।  इस मामले में एसआईटी बनाकर जांच शुरू कर दी गई है। संदेहियों से पूछताछ चल रही है। जल्द ही और खुलासे हो सकते हैं।

सचिन अतुलकर, एसपी