Ujjain : श्री महाकाल मंदिर से जुड़ी योजना को लेकर सीएम शिवराज ने दिए महत्वपूर्ण निर्देश

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शुक्रवार को उज्जैन में भगवान श्री महाकालेश्वर मंदिर पहुँचकर विधि-विधान से पूजा-अर्चना की। उन्होंने पूजा के ही दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा केदारनाथ मंदिर में किए जा रहे पूजन को वर्चुअल देखा एवं उनके उद्बोधन को सुना। इस अवसर पर उच्च शिक्षा मंत्री डॉ मोहन यादव, सांसद अनिल फिरोजिया, प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा, जन-अभियान परिषद के उपाध्यक्ष विभाष उपाध्याय, विवेक जोशीन, जगदीश अग्रवाल और बहादुर सिंह मुंडला मौजूद थे।

दिवाली पर जब हो जाए नई प्रतिमाओं की स्थापना तो फिर पुरानी मूर्तियों का क्या करे, देखे यह तरीका

Ujjain : श्री महाकाल मंदिर से जुड़ी योजना को लेकर सीएम शिवराज ने दिए महत्वपूर्ण निर्देश

उज्जैन प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने श्री महाकाल महाराज मंदिर परिसर विस्तार योजना का स्थल निरीक्षण भी किया। उन्होंने पैदल चलकर विभिन्न निर्माण कार्यों को देखा एवं उनके बारे में कलेक्टर आशीष सिंह से जानकारी ली। निरीक्षण के दौरान मुख्यमंत्री ने विकास योजना के तहत बनाए जा रहे हैं आधार स्तंभ, भित्ति चित्रों एवं म्यूरल वाल को भी देखा। उन्होंने कमल तालाब को देखा और सप्त ऋषि मंडल, शिव आनंद तांडव स्तंभ, शिव स्तंभ, शिव मूर्तियां, त्रिपुरासुर वध आदि पॉइंट पर जाकर जानकारी ली।

सीएम ने निरीक्षण स्थल पर मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि श्री महाकाल महाराज मंदिर परिसर विस्तार योजना कुल 730 सौ करोड़ रुपए की है, जिसमें से 368 करोड़ के निर्माण कार्य चल रहे हैं। उन्होंने बताया कि सभी निर्माण कार्य महाशिवरात्रि के पहले पूरे कर लिए जाएं, इस आशय के निर्देश दिए गए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारतीय संस्कृति एवं महाकाल से जुड़ी हुई कथाएं, परंपराएं, मान्यताएं आदि का अंकन इस पूरे परिसर में इस तरह से किया जाएगा कि तीर्थयात्रियों को अलौकिक अनुभव प्राप्त हो। उन्होंने कहा कि त्रिवेणी संग्रहालय से महाकालेश्वर मंदिर तक जाने वाले पाथवे पर 108 खंबे बनाए जा रहे हैं, जिनमें प्रत्येक खंबे पर धार्मिक परंपरा इतिहास से जुड़ी हुई कथाओं का अंकन होगा।