उज्जैन में दूल्हा करता रहा इंतजार- लुटेरी दुल्हन शादी के पांचवें दिन गहने और नकदी लेकर फरार

उज्जैन, डेस्क रिपोर्ट। लुटेरी दुल्हन गिरोह ने एक बार फिर कमाल दिखाया है इस बार मामला उज्जैन का है, उज्जैन के सांवरिया कालोनी में रहने वाले संजय ने 9 अप्रैल 2022 को धूमधाम से शादी की लेकिन उसे जरा भी भनक नहीं थी कि जिस दुल्हन को वो बैंड बाजों के साथ बारात ले जाकर ब्याह कर ला रहा है वह महज पाँच दिन की ही उसकी दुल्हन है, शादी के पांचवें दिन ही दुल्हन घर का दरवाजा बाहर से बंद कर फरार हो गई। पति और परिवार वाले घर में सोए हुए थे। पति संजय की जब नींद खुली तो उसे लगा की दुल्हन वाशरूम गई है देर तक जब दुल्हन वाशरूम से वापस नहीं आई तो संजय ने वाशरूम का दरवाजा खटखटाया तब उसे पता चला की दुल्हन तो उसे चपत लगाकर फरार हो गई है साथ में शादी के गहने और नकदी भी ले गई।

यह भी पढ़ें… शिक्षक नियुक्ति पर आई बड़ी अपडेट, केंद्रीय शिक्षा मंत्री ने कहा- 6 से 8 महीने में पूरा होगा काम, भरे जाएंगे हजारों पद

लुटेरी दुल्हन गैंग का शिकार बना संजय उज्जैन की सांवरिया कालोनी का निवासी है, उसने हाल ही में 9 अप्रैल 2022 को नंदकिशोर निवासी ग्राम जलोदिया ने सोनाली पुत्री बालू पंवार निवासी शहजापुर पोस्ट घाणेगांव जिला औरंगाबाद (महाराष्ट्र) से उसका विवाह करवाया था। हालांकि रिश्ता तय होने से पहले संजय ने लड़की के बारे में पड़ताल की औ फिर शादी के लिए हामी भरी, और तो और शादी करवाने के बदले में संजय ने एक लाख 25 हजार रुपये सोनाली की मौसी सरिता पत्नी नेमीचंद्र निवासी कालूपुर अहमदाबाद को दी, इसके बाद बाकायदा हिन्दू रीति रिवाज से सोनाली और संजय की शादी हुई, इस शादी में सोनाली को संजय के घर की तरफ से गहने और साड़िया दी गई, विदा होकर सोनाली उज्जैन पहुंची जहां महज 5 दिन बाद ही वह भाग गई, इसके बाद सोनाली की मौसी ने भी अपना फोन बंद कर लिया। संजय और उसके परिवार ने जब सोनाली की पड़ताल की तो पता चला की सोनाली और उसकी मौसी इससे पहले भी इसी तरह कई दूल्हों को अपना शिकार बना चुकी है, फिलहाल संजय ने थाने में मामला दर्ज करवाया है।